All for Joomla All for Webmasters
पंजाब

वैक्सीन नहीं ली तो पंजाब में नो एंट्री, CM कैप्टन अमरिंदर सिंह का आदेश- जम्मू, हिमाचल से आने वालों पर रखे नज़र

captain

कोरोना का कहर अभी खत्म नहीं हुआ है। इस बीच पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने ऐलान किया है कि अब पंजाब में उन्हीं लोगों को एंट्री मिलेगी जिनके पास निगेटिव आरटीपीसीआर रिपोर्ट हो या फिर उन्होंने कोरोना के खिलाफ लड़ने वाली वैक्सीन की दोनों डोज ले ली हो। पंजाब सरकार ने अपने आदेश में प्रशासन से कहा है कि इस आदेश का कड़ाई से पालन कराया जाए। खासकर जो लोग हिमाचल प्रदेश और जम्मू से आ रहे हैं उनपर नजर रखी जाए, क्योंकि इन दोनों ही राज्यों में कोरोना वायरस के मामले बढ़े हैं। पंजाब सरकार का यह आदेश सोमवार से लागू हो जाएगा। 

कोरोना के खतरे को देखते हुए पंजाब सरकार ने अपने आदेश में यह भी कहा है कि राज्य के स्कूल और कॉलेजों में सिर्फ वैसे ही शिक्षक या अन्य स्टाफ आ सकते हैं जिन्होंने कोविड-19 वैक्सीन की दोनों डोज ली हो, या फिर वो जो लोग हाल ही में कोविड-19 से ठीक हुए हैं वैसे लोग ही स्कूल या कॉलेज में उपस्थित रह सकते हैं। यहां तक कि यहां अभी छात्रों के लिए ऑनलाइन क्लास की सुविधा को भी जारी रखने के लिए कहा गया है।

सीएम कैप्टम अमरिंदर सिंह ने यह भी कहा है कि वो चाहते हैं कि शैक्षणिक गतिविधियों से जुड़े सभी कर्मचारियों को प्राथमिकता के तौर पर कैंप लगाकर वैक्सीन दिया जाए। बता दें कि शुक्रवार को पंजाब में कोरोना के कुल 88 मामले सामने आये और इस दिन किसी के भी मरने की खबर नहीं है। राज्य में कोरोना महामारी से ग्रसित कुल मरीजों की संख्या 6 लाख के पास पहुंच गई है। पंजाब में स्कूलों के दोबारा खोले जाने पर यहां कोविड टेस्टिंग बढ़ा दी गई है। सरकार ने अब स्कूल में हर रोज कम से कम 10,000 सैम्प्लस के आरटी-पीसीआर टेस्ट कराने का भी फैसला किया है। 

पंजाब के अलावा हरियाणा और हिमाचल प्रदेश के भी कुछ स्कूलों में छात्रों के बीच कई कोरोना पॉजीटिव केस मिले हैं। बता दें कि इधर पर्यटन के लिहाज से मशहूर हिमाचल प्रदेश में कोरोना के मामलों में कम नहीं आई तो प्रदेश सरकार 15 अगस्त के बाद और बंदिशें लगा सकती है। राज्य के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने इस संबंध में हाल ही में कहा है कि सभी को नियमों का पालन करना होगा। लोगों का जीवन बहुत की महत्वपूर्ण है। मामले कम नहीं हुए तो बंदिशें लगानी होंगी।

केंद्र शासित जम्मू-कश्मीर में भी कोरोना संक्रमण के मामले अचानक बढ़ने लगे हैं। देश में पिछले 24 घंटों के दौरान कोरोना वायरस (कोविड-19) के नये मामलों की तुलना में इससे ठीक होने वाले लोगों की संख्या एक बार फिर कम रही, जिसके कारण सक्रिय मामले करीब ढाई हजार बढ़कर 3,87,67 हो गए। देश में शुक्रवार को 63 लाख 80 हजार 937 लोगों को कोरोना के टीके लगाये गये तथा अब तक 53 करोड़ 61 लाख 89 हजार 903 लोगों का टीकाकरण किया जा चुका है।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से शनिवार सुबह जारी आंकड़ों के अनुसार पिछले 24 घंटों में कोरोना के 38,667 नये मामले सामने आने के साथ ही संक्रमितों का आंकड़ा बढ़कर तीन करोड़ 21 लाख 46 हजार 493 हो गया है। इस दौरान 35 हजार 743 मरीजों के स्वस्थ होने के बाद इस महामारी को मात देने वालों की कुल संख्या बढ़कर तीन करोड़ 13 लाख 38 हजार 088 हो गयी है।

सक्रिय मामले 2446 बढ़कर तीन लाख 87 हजार 673 रह गये हैं। इसी अवधि में 478 मरीजों की मौत होने से मृतकों का आंकड़ा बढ़कर चार लाख 30 हजार 732 हो गया है। देश में साप्ताहिक पॉजिटिविटी दर 2.05 प्रतिशत रही। देश में सक्रिय मामलों की दर बढ़कर 1.21 फीसदी, रिकवरी दर घटकर 97.45 फीसदी और मृत्यु दर 1.34 फीसदी है। 

Source :
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

लोकप्रिय

To Top