All for Joomla All for Webmasters
पंजाब

पाकिस्तान ने कोई दुस्साहस किया तो ऐसा सबक सिखाएंगे कि आजीवन याद रखेगा: अमरिंदर सिंह

captain

उन्होंने कहा कि पंजाब के लिए कोई खतरा होने का मतलब है पूरे देश के लिए खतरा.

अमृतसर: पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने पाकिस्तान के ‘‘नापाक इरादों’’ से राज्य की रक्षा करने का रविवार को संकल्प लिया और कहा कि ‘‘हम शांति चाहते हैं लेकिन हमारे क्षेत्र में किसी तरह के हमले या आक्रामकता को बर्दाश्त नहीं करेंगे.’’ उन्होंने कहा कि पंजाब के लिए कोई खतरा होने का मतलब है पूरे देश के लिए खतरा

स्वतंत्रता दिवस समारोह में तिरंगा फहराने के बाद मुख्यमंत्री ने अपने संबोधन में केंद्र के तीन नए कृषि कानूनों को रद्द कराने के लिए किसानों के साथ मिलकर लड़ाई जारी रखने का भी संकल्प लिया. पाकिस्तान के खिलाफ पूरी तरह से चौकन्ना रहने का आह्वान करते हुए सिंह ने कहा, ‘‘हम शांति चाहते हैं लेकिन हमारे क्षेत्र में किसी तरह के हमले या आक्रामकता को बर्दाश्त नहीं करेंगे. यदि उसने (पाकिस्तान) कोई दुस्साहस करने का प्रयास किया तो ऐसा सबक सिखाएंगे कि वह जीवनभर नहीं भूलेगा.

पंजाब में हथियारों और मादक पदार्थों की तस्करी के लिए पाकिस्तान द्वारा ड्रोन का इस्तेमाल किए जाने के बारे में सिंह ने आगाह किया कि इस्लामाबाद किसी भी राज्य की कमजोरी का फायदा उठाने का अवसर नहीं चूकेगा. उन्होंने कहा कि उनकी सरकार गैंगस्टर और आतंकवादियों समेत किसी भी खतरे को बर्दाश्त नहीं करेगी.

मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘हम उनसे सख्ती से निपटेंगे. पंजाब के लिए कोई भी खतरा पूरे देश के लिए खतरा होगा.’’ सिंह ने कहा कि जब से उनकी सरकार सत्ता में आई है, तब से अब तक 47 पाकिस्तानी आतंकवादी मॉड्यूल और गैंगस्टरों के 347 मॉड्यूल का पर्दाफाश किया जा चुका है.

स्वतंत्रता दिवस समारोह से इतर मीडियाकर्मियों से अनौपचारिक बातचीत में सिंह ने केंद्र के कृषि कानूनों के खिलाफ किसान आंदोलन के जारी रहने पर चिंता जताई. सिंह ने कहा कि उन्होंने हाल में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के साथ बैठकों में यह मुद्दा उठाया था और कृषि कानूनों को रद्द करने की मांग भी की है. उन्होंने कहा, ‘‘इन काले कानूनों के खिलाफ लड़ाई राजनीतिक नहीं है.’’

Source :
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

लोकप्रिय

To Top