All for Joomla All for Webmasters
टेक

OTT प्लेटफॉर्म के लिए अब करनी होगी जेब ढ़ीली, 1 सितंबर से बदल जाएंगे ये 5 नियम

OTT

नई दिल्ली: मोबाइल यूजर्स को 1 सितंबर से अमेजन, गूगल ड्राइव और ओटीटी प्लेटफॉर्म्स पर बड़े बदलाव देखने को मिलेंगे. जिसका सीधा असर यूजर्स की जेब पर पड़ने वाला है. इसका मतलब ये हुआ कि अब आपको इन सर्विस के लिए ज्यादा कीमत चुकानी होगी. 

अगर आप मोबाइल यूजर हैं और डिज्नी+हॉटस्टार जैसे ओटीटी प्लेटफॉर्म्स को इस्तेमाल करते हैं, तो यह खबर आपके लिए बेहद जरूरी है. सर्विस का आराम से फायदा उठाने के लिए आपके लिए इन 5 नियमों के बारे में जानना और समझना जरूरी है. 1 सितंबर से मोबाइल यूजर्स के लिए 5 नियम बदलने जा रहे हैं. यह बदलाव 1 सितंबर और 15 सितंबर से प्रभावी हो रहे हैं.

ओटीटी प्लेटफॉर्म्स का प्लान होगा महंगा

1 सितंबर से भारत में ओटीटी प्लेटफॉर्म डिज्नी+हॉटस्टार का सब्सक्रिप्शन महंगा हो जाएगा. अभी यूजर्स बेस प्लान के लिए 399 रुपये देते हैं, लेकिन अगले महीने से इसकी कीमत बढ़कर 499 रुपये हो जाएगी.

मतलब यूजर्स को 100 रुपये एक्स्ट्रा चार्ज देना होगा. वहीं 899 रुपये में ग्राहक दो फोन में Disney+ Hotstar ऐप चला पाएंगे. साथ ही इस सब्सक्रिप्शन प्लान में HD क्वालिटी मिलती है. यूजर्स 1,499 रुपये में 4 स्क्रीन पर इस ऐप को चला सकते हैं.

अब अमेजोन से सामान मंगाना हो जाएगा महंगा

अमेजोन यूजर्स के लिए 1 सितंबर से Amazon से सामान ऑर्डर करना महंगा हो सकता है. दरअसल, डीजल और पेट्रोल के दाम बढ़ने से कंपनी लॉजिस्टिक्स कॉस्ट बढ़ा सकती है. बता दें कि 500 ग्राम के पैकेज के लिए 58 रुपये चुकाने पड़ सकते हैं. वहीं, रीजनल कॉस्ट 36.50 रुपये होगी.

पहले के मुकाबले ज्यादा सुरक्षित हो जाएगा Google Drive 

Google Drive यूजर्स को आगामी 13 सितंबर को नया सिक्योरिटी अपडेट मिलेगा. जिससे Google Drive का इस्तेमाल पहले के मुकाबले ज्यादा सुरक्षित हो जाएगा. 

Fake Content को प्रमोट करने वालों पर रोक

Google की नई नीति 1 सितंबर से प्रभावी है, जिसके तहत 1 सितंबर से झूठी और नकली सामग्री को बढ़ावा देने वाले एप्स पर प्रतिबंध लगाया जा रहा है. बता दें कि गूगल प्ले स्टोर के नियमों को गूगल की ओर से पहले से ज्यादा सख्त बनाया जा रहा है.

15 सितंबर से लागू हो रहे हैं नए नियम

गूगल प्ले स्टोर के लिए 15 सितंबर 2021 से नए नियम लागू हो रहे हैं. जिसके तहत भारत में 15 सितंबर से ऐसे शॉर्ट पर्सनल लोन ऐप्स पर प्रतिबंध लगा दिया जाएगा, जो लोन के नाम पर ठगी कर कर्जदारों को परेशान करते हैं. नए नियमों के बाद, ऐप डेवलपर्स को शॉर्ट लोन Apps के संबंध में और दस्तावेज उपलब्ध कराने होंगे.

Source :
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

लोकप्रिय

To Top