All for Joomla All for Webmasters
जम्मू और कश्मीर

Ladakh के पंचायत प्रतिनिधियों से क्षेत्र के विकास की बात, जानें क्या बोले स्पीकर Om Birla

Jaipur: पंचायतों को मजबूत करने के लिए केंद्र शासित प्रदेश लेह-लद्दाख में आउटरीच प्रोग्राम का आयोजन हुआ, जिसका उद्घाटन लोकसभा स्पीकर ओम बिरला (Om Birla) ने दीप प्रज्वलित कर किया. 

लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने कहा कि लोकतंत्र की सबसे मजबूत इकाई ग्राम पंचायत है. हमारा प्रयास होना चाहिए कि पंचायतें मजबूत हों. जितनी सजग और सतर्क यह संस्था होगी, उतना ही सजग और सतर्क जनता को बनना होगा. लोकसभा सहित सर्वोच्च संस्थानों की जिम्मेदारी है कि जितनी भी लोकतांत्रिक संस्थाएं हैं उनकी नियम प्रक्रियाएं बननी चाहिए.

देहरादून और शिलांग के बाद लेह के सिंधु भवन में लद्दाख के पंचायती राज प्रतिनिधियों के सशक्तिकरण कार्यक्रम का आयोजन हुआ. खास बात यह रही कि सम्मेलन के उद्धाटन समारोह के बाद लोकसभा स्पीकर ओम बिरला ने कारिगल और लेह के दूरदराज क्षेत्रों से आए पंचायत प्रतिनिधियों, पर्वत परिषद सदस्यों, ब्लॉक विकास परिषद सदस्यों से अलग-अलग समूहों में बात की. उनकी समस्याओं को न केवल सुना गया बल्कि समाधान पर चर्चा कर अधिकारियों को विषय अग्रेसित किए गए. इसके साथ ही उन्होंने लेह-कारगिल क्षेत्र के मीडिया प्रतिनिधियों से भी वार्ता की. 

वरदान बन रहीं लद्दाख की भौगोलिक परिस्थितियां 
बिरला ने कहा कि लद्दाख की विषय भौगोलिक परिस्थितियां भी वरदान बन रही हैं. आसमान छूते पहाड़, ग्लेश्यिर, भारत का गौरव और भारतीयता का पहचान सिंधु नदी, प्राचीन बौद्ध विहार सबसे अलग हैं. यहां सर्द खेलों के लिए सुविधाएं विकसित की जा रही हैं. इसी साल से पर्यटनों का बढऩा अच्छा संकेत है. पूरी दुनिया के पर्यटकों के लिए यह आश्चर्य होगा कि यहां सर्दियों में बर्फ का रेगिस्तान होता है. उन्होंने कहा कि अब यहां पर्यटन गांवों की ओर जा रहा है. यह रोजगार सृजन और आत्मनिर्भर लद्दाख का सपना पूरा कर रहा है.  

70 साल का सपना पूरा
लद्दाख क्षेत्र के सभी प्रतिनिधियों ने एक स्वर से कहा कि केंद्र सरकार ने लद्दाख को केंद्र शासित प्रदेश बनाकर 70 साल का सपना पूरा किया है. लद्दाख स्वायतशाषी पहाड़ी विकास परिषद लेह के चेयरमैन ताशी ग्यालसन, लद्दाख स्वायतशाषी पहाड़ी विकास परिषद कारगिल के चेयरमैन फिरोज अहमद खान और स्थानीय सांसद जमयांग सेरिंग नामग्याल ने केंद्र सरकार को इस बदलाव के लिए धन्यवाद दिया. उन्होंने बदलाव के बाद सामने आई कुछ समस्याओं की ओर भी ध्यान दिलाया. लद्दाख के उपराज्यपाल राधाकृष्ण माथुर ने लद्दाख क्षेत्र के विकास के लिए किए जा रहे केंद्र सरकार के प्रयासों की जानकारी दी. सम्मेलन में लद्दाख के लेह और कारगिल जिलों के पंचायत प्रतिनिधि, ब्लॉक विकास परिषद, लद्दाख स्वायतशाषी पहाड़ी विकास परिषद के प्रतिनिधि व्यक्तिगत और वर्चुअल रूप से जुड़े. 

जरूरतमंदों को मेडिकल किट वितरित की गई
केंद्रीय गृह राज्य मंत्री नित्यानंद राय, उवर्रक एवं रसायन राज्य मंत्री भगवंत खुरबा और लोकसभा के महासचिव उत्पल कुमार सिंह भी मौजूद रहे. उधर लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला शाम को लेह के प्रसिद्ध महाबोधि इंटरनेशनल मेडिटेशन सेंटर गए. वहां संस्थापक और गुरु बिखू संघसेना गुरु ने उनका स्वागत किया. दोनों के बीच आध्यात्मिक चर्चा हुए. बिरला ने कहा कि सेंटर ने शांति, अहिंसा, प्रेम, करुणा और मानवता को समर्पित होने के साथ ही कोराना काल में अद्भुत सेवा कार्य किए. उन्होंने इस अवसर पर एम्बुलेंस सेवा का उद्धाटन किया और जरूरतमंदों को मेडिकल किट वितरित की.

बहरहाल, पंचायतों को मजबूत बनाने के लिए लोकसभा स्पीकर ओम बिरला की पहल की लेह-लद्दाख में तारीफ हो रही है. पहली बार लेह की धरा पर इस तरह का कार्यक्रम होना लद्दाख वासियों के लिए गर्व की बात है.

Source :
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

लोकप्रिय

To Top