All for Joomla All for Webmasters
गुजरात

आज का मौसम, 31 अगस्त 2021: गुजरात में अगले 5 दिनों तक हो सकती है बारिश, यूपी के कई इलाके बाढ़ग्रस्त

अहमदाबाद/लखनऊ/हैदराबाद/देहरादून. भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने सोमवार को कहा कि गुजरात में अगले पांच दिनों के दौरान ‘सक्रिय रूप से बारिश’ होने की संभावना है. गुजरात में इस साल अब तक सामान्य से करीब 50 प्रतिशत कम बारिश दर्ज की गई है. IMD के अहमदाबाद केंद्र ने एक विज्ञप्ति में कहा कि गुजरात के कई क्षेत्रों, सौराष्ट्र-कच्छ और केंद्र शासित दादरा एवं नगर हवेली और दमन एवं दीव में चार सितंबर की सुबह तक ‘हल्की से मध्यम बारिश’ होगी जबकि इसी अवधि में दक्षिण गुजरात और सौराष्ट्र के कुछ इलाकों में ‘भारी से बहुत भारी बारिश’ की संभावना है.

विभाग ने कहा कि इस साल गुजरात में अब तक बारिश में 50 प्रतिशत की कमी दर्ज की गई है, राज्य में सामान्य वर्षा 576.5 मिलीमीटर के मुकाबले 288.6 मिलीमीटर बारिश हुई है. विभाग ने कहा कि अहमदाबाद, अरवल्ली, बनासकांठा, गांधीनगर, कच्छ और सुरेंद्रनगर जिलों में इस साल अब तक सबसे कम बारिश दर्ज की गई है.

उत्तर प्रदेश में हल्की से मध्यम बारिश
उधर त्तर प्रदेश में कई स्थानों पर पिछले 24 घंटों के दौरान हल्की से मध्यम बारिश हुई और गरज के साथ बौछारें पड़ीं. मौसम विभाग ने सोमवार को यह जानकारी दी. विभाग के अनुसार पूर्वी उत्तर प्रदेश में अलग-अलग स्थानों पर भारी बारिश हुई और पश्चिमी उत्तर प्रदेश में भी कई स्थानों पर बारिश हुई. विभाग के बयान के अनुसार राज्य में अलग-अलग स्थानों पर बिजली गिरने के साथ गरज के साथ छींटे पड़े. खीरी, गोंडा, मैनपुरी, लखनऊ, कानपुर देहात, फर्रुखाबाद, फिरोजाबाद, सहारनपुर, कन्नौज, बहराइच, प्रयागराज, गाजीपुर, बलरामपुर, गोंडा और श्रावस्ती में बारिश दर्ज की गई.

राज्य में अधिकतम तापमान 35.6 डिग्री सेल्सियस लखीमपुर खीरी में और न्यूनतम तापमान 22.0 डिग्री सेल्सियस इटावा में दर्ज किया गया.

विभाग ने मंगलवार को राज्य में कुछ स्थानों में गरज के साथ बारिश होने की संभावना जताई है और चेतावनी दी है कि छिटपुट स्थानों पर गरज के साथ बिजली गिरने की भी संभावना है.

इस बीच, प्रदेश के राहत आयुक्त रणवीर प्रसाद ने बताया कि राज्य में बाढ़ संबंधी कोई चिंता की बात नहीं है और सभी तटबंध सुरक्षित हैं. उन्होंने बताया कि गंगा नदी बदायूं में, शारदा नदी लखीमपुर खीरी में, घाघरा नदी अयोध्या और बलिया में, राप्ती नदी गोरखपुर तथा सिद्धार्थनगर में, रोहिणी नदी महाराजगंज में, कुआनो नदी गोंडा में तथा गंडक नदी कुशीनगर में खतरे के निशान से ऊपर बह रही है. प्रसाद ने बताया कि बाढ़ प्रभावित इलाकों में राहत और बचाव कार्य के लिए एनडीआरएफ (राष्ट्रीय आपदा मोचन बल), एसडीआरएफ (राज्य आपदा मोचन बल) और पीएसी (प्रादेशिक आर्म्‍ड कांस्टेबुलरी) तैनात की गई है.

पिथौरागढ़ में मकानों के ढहने से तीन बहनों समेत पांच की मौत
इसके साथ ही उत्तराखंड के पिथौरागढ़ जिले में धारचूला क्षेत्र के एक गांव में भारी बारिश के कारण तीन मकान ढहने से तीन नाबालिग बहनों समेत पांच व्यक्तियों की मौत हो गई तथा दो अन्य घायल हो गए . घटना में दो अन्य व्यक्ति लापता हैं जिनकी तलाश की जा रही है . घटनास्थल पर बचाव और राहत कार्यों की निगरानी कर रहे पिथौरागढ़ के जिलाधिकारी आशीष चौहान ने बताया कि रविवार देर रात जुम्मा गांव में यह हादसा हुआ .

सशस्त्र सीमा बल के कमांडेंट एम पी सिंह ने बताया कि प्रभावित स्थल से तीन बालिकाओं समेत पांच व्यक्तियों के शव बरामद कर लिए गए हैं जबकि दो अन्य लापता लोगों की तलाश जारी है .

मृतक बालिकाओं की पहचान जुम्मा गांव के रहने वाले जोगा सिंह की पुत्रियों संजना (15), रेनू (11) और शिवानी (नौ) के रूप में की गई है. इसके अलावा हादसे में दो अन्य महिलाओं सुनीता देवी और पार्वती देवी की भी मौत हो गई. घटना में घायल हुई जयामती देवी और लाल सिंह को अस्पताल में भर्ती कराया गया है . जिला आपदा प्रबंधन अधिकारी भूपेंद्र सिंह महर ने बताया कि हादसे में लापता हुए चंदर सिंह और हजारी देवी को ढूंढने के लिए खोजी कुत्तों की मदद ली जा रही है .

तेलंगाना में बारिश से संबंधित घटनाओं में नव विवाहिता सहित चार व्यक्तियों की मौत
दूसरी ओर तेलंगाना में पिछले 24 घंटे के दौरान बारिश से संबंधित अलग-अलग घटनाओं में एक नवविवाहिता सहित चार व्यक्तियों की मौत हो गई जबकि एक लड़का और एक महिला लापता हैं. यह जानकारी पुलिस ने सोमवार को दी.

पुलिस ने बताया कि विकराबाद जिले में एक दुल्हन सहित दो महिलाओं की रविवार रात उनकी कार के एक पुल को पार करते समय पानी में बहने से मौत हो गई. कार में दूल्हे सहित चार अन्य व्यक्ति भी सवार थे. उन्होंने कहा कि इलाके में भारी बारिश के बाद पास के जलाशय में पानी काफी तेजी से बह रहा था.

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने पीटीआई-भाषा को बताया कि जोड़े की पिछले सप्ताह ही शादी हुई थी और दोनों परिवार के अन्य सदस्यों के साथ एक समारोह में शामिल होकर अपने गांव लौट रहे थे. उन्होंने बताया कि दूल्हा और कार चालक समेत तीन लोग खुद को बचाने में कामयाब रहे जबकि कार के पिछले हिस्से में बैठी दुल्हन और एक अन्य महिला के शव सोमवार को चार किलोमीटर दूर बरामद किए गए. उन्होंने बताया कि एक लड़के का पता लगाया जा रहा है, जो बह गया था.

Source :
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

लोकप्रिय

To Top