All for Joomla All for Webmasters
जरूरी खबर

Bank New Service : बैंक अब आपके घर पर पहुंचाएंगे सिक्के, 1 सितंबर से बदल रहे हैं नियम

RBI

Bank New Service : बैंक अब जल्द ही “डोर स्टेप बैंकिंग” के तहत अपने ग्राहकों को उनके दरवाजे पर सिक्के पहुंचाएंगे. आरबीआई ने बैंकों को अपने थोक ग्राहकों के लिए ऐसी नीति बनाने की अनुमति प्रदान कर दी है. आरबीआई के सर्कुलर के मुताबिक बैंक अपने ग्राहकों को बिजनेस ट्रांजैक्शन के लिए यह सुविधा दे सकते हैं. इसके लिए बैंक अपने निदेशक मंडल से नीति की मंजूरी ले सकता है. जिसके आधार पर बैंक सिक्के देने के लिए विस्तृत नियम तैयार कर सकेंगे.

आरबीआई के मुताबिक, डोर स्टेप बैंकिंग के जरिए सिक्के पहुंचाने की सुविधा सिर्फ उन्हीं ग्राहकों को मिलेगी जो बैंक का केवाईसी अनुपालन करते हैं. साथ ही जब बैंक ऐसे ग्राहक को सिक्के देगा तो उसका पूरा रिकॉर्ड भी रखना होगा. इसके अलावा बैंक ने यह भी कहा है कि किसी भी तरह की धोखाधड़ी को रोकने के लिए बैंकों को भी अपनी ड्यू डिलिजेंस प्रक्रिया अपनानी चाहिए.

सिक्के देने के लिए बैंकों को प्रोत्साहन

आरबीआई ने सिक्कों के लेन-देन को बढ़ाने के लिए बैंकों के प्रोत्साहन को भी बढ़ा दिया है. इसके तहत अब बैंकों को 1 सितंबर से प्रति बोरी 65 रुपये की प्रोत्साहन राशि मिलेगी. अब तक बैंकों को 25 रुपये का प्रोत्साहन मिलता था. इसके अलावा ग्रामीण और ग्रामीण इलाकों में इस तरह के लेनदेन पर 10 रुपये का अतिरिक्त प्रोत्साहन दिया जाएगा. छोटा कस्बा.

पुराने नोट और सिक्कों के नाम पर ठगी

आरबीआई ने एक सर्कुलर में यह भी कहा है कि यह पाया गया है कि कई ऑनलाइन प्लेटफॉर्म भारतीय रिजर्व बैंक के नाम से नकली लोगो या आरबीआई के नाम का उपयोग कर रहे हैं. जिसके माध्यम से पुराने नोटों और सिक्कों के लेन-देन पर कमीशन या शुल्क लिया जा रहा है. जो पूरी तरह गलत है. आरबीआई ने कहा है कि वह पुराने नोटों और सिक्कों के लेन-देन पर कोई शुल्क या कमीशन नहीं लेता है. साथ ही, RBI ने किसी भी प्लेटफॉर्म को इस तरह के लेनदेन करने की अनुमति नहीं दी है. इसलिए लोगों को इस तरह की ठगी का शिकार नहीं होना पड़ेगा.

दरअसल, लोग बड़े पैमाने पर पुराने नोट और सिक्के जमा करते हैं. ऐसे में कई लोग इसकी भारी कीमत चुकाने को तैयार हैं. कुछ ऑनलाइन प्लेटफॉर्म इसका फायदा उठाते हैं. और धोखे से ऐसे नोटों और सिक्कों के लेन-देन पर आरबीआई के नाम से कमीशन या शुल्क वसूल करते हैं.

Source :
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

लोकप्रिय

To Top