All for Joomla All for Webmasters
पश्चिम बंगाल

पश्चिम बंगाल में बृहस्पतिवार से बैंकों में सामान्य काम-काज होगा : ममता बनर्जी

mamta

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बुधवार को कहा कि राज्य के बैंक बृहस्पतिवार से सामान्य तरीके से, पूरे समय तक काम करना शुरू कर देंगे. राज्य में कोविड-19 महामारी की दूसरी लहर के दौरान, कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते मामलों के मद्देनजर बैंक में काम-काज के समय में कई बार बदलाव किया गया. बैंक का सामान्य समय सुबह 10 बजे से शाम चार बजे तक है

कोलकाता. पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Chief Minister Mamata Banerjee) ने बुधवार को कहा कि राज्य के बैंक बृहस्पतिवार से सामान्य तरीके से, पूरे समय तक काम करना शुरू कर देंगे. राज्य में कोविड-19 महामारी की दूसरी लहर के दौरान, कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते मामलों के मद्देनजर बैंक में काम-काज के समय में कई बार बदलाव किया गया. बनर्जी ने कहा, ‘‘बैंकों में अब पूर्णकालिक काम-काज की जरूरत है. ‘लक्ष्मी भंडार’ योजना की वजह से कई नए खाते खोले जा रहे हैं. इसलिए, हमने बैंकों को सामान्य समय के अनुसार काम करने की अनुमति देने का निर्णय लिया है.’’

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि बैंक का सामान्य समय सुबह 10 बजे से शाम चार बजे तक है. लगभग 1.6 करोड़ लोगों के, ‘लक्ष्मी भंडार’ योजना का हिस्सा बनने की उम्मीद है, जिसका वादा तृणमूल कांग्रेस ने चुनावी घोषणापत्र में किया था. इस योजना के तहत अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति परिवारों की महिला मुखिया को एक हजार रुपये प्रति माह जबकि सामान्य वर्ग के परिवारों की महिला मुखिया को 500 रुपये प्रति माह की वित्तीय सहायता मुहैया कराई जाएगी.

लंबित उपचुनाव की तारीखों की तत्काल घोषणा हो

ममता बनर्जी ने चुनाव आयोग से अपनी मांगे दोहराते हुए कहा कि बंगाल में कोविड-19 की स्थिति पूरी तरह नियंत्रण में है और निर्वाचन आयोग को राज्य की सात विधानसभा सीटों के लिए लंबित उपचुनाव की तारीखों की तत्काल घोषणा करनी चाहिए. उन्होंने यह भी कहा कि निर्वाचन आयोग को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि लोगों के लोकतांत्रिक अधिकारों में कटौती न हो. बनर्जी ने कहा, ”(चुनाव खत्म हुए) पहले ही चार महीने हो चुके हैं और अब कोविड ​​​​-19 स्थिति भी पूरी तरह से नियंत्रण में है. लोगों को अपना वोट डालने का अधिकार है … उन्होंने (ईसीआई) ने राजनीतिक दलों से राय मांगी थी.” उन्होंने राज्य सचिवालय में कहा, ”मुझे लगता है कि निर्वाचन आयोग को तुरंत उपचुनाव की तारीखों की घोषणा करनी चाहिए क्योंकि हमें लोगों के लोकतांत्रिक अधिकारों में कटौती नहीं करनी चाहिए.”

पश्चिम बंगाल की सात विधानसभा सीटों जंगीपुर, शमशेरगंज, खरधा, भवानीपुर, दीनाहाटा, शांतिपुर और गोशाबा में उपचुनाव होने हैं. तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) सूत्रों के अनुसार, नंदीग्राम सीट पर भाजपा के शुभेंदू अधिकारी से हारने वाली मुख्यमंत्री अपने गृह क्षेत्र भवानीपुर विधानसभा क्षेत्र से चुनाव लड़ सकती हैं.

Source :
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

लोकप्रिय

To Top