All for Joomla All for Webmasters
समाचार

जल्द शुरू होगा नेजल वैक्सीन का क्लीनिकल ट्रायल

coronavirus

कोरोना वायरस से बचाव के लिए Covaxin वैक्सीन बनाने वाली भारत बायोटेक (Bharat Biotech) की नेजल वैक्सीन (Nasal vaccine) के दूसरे और तीसरे फेज का क्लीनिकल ट्रायल जल्द ही दिल्ली एम्स (AIIMS) में शुरू होगा। एम्स के अलावा इसका ट्रायल इंस्टीट्यूट ऑफ लिवर एंड बिलियरी साइंसेज और गुरुनानक अस्पताल और हरियाणा के पलवल में INCLEN में भी किया जाएगा।

‘वैक्सीन लेने के बाद डेल्टा वायरस से 60 फीसदी तक घटता है संक्रमण का खतरा’

इस ट्रायल को नियामक की ओर से अगस्त में ही मंजूरी मिल गई थी। हालांकि, इसके अलावा इस ट्रायल को करने से पहले एम्स अस्पताल की एथिक्स कमिटी से मंजूरी लेनी पड़ती है, जिसकी प्रक्रिया चल रही है और उम्मीद है अगले एक से दो सप्ताह में मंजूरी मिल जाएगी।

इस कोरोना वैक्सीन को नाक के जरिए दिया जाएगा। बताया जा रहा है कि यह वैक्सीन बच्चों पर के लिए कारगर होगी। इंट्रानैसल वैक्सीन का ट्रालय अगले दो सप्ताह में शुरू होने की संभावना है, एथिक्स कमेटी की अनुमति लेने के लिए अप्लाई कर दिया गया है।

दूसरे चरण का क्लीनिकल ट्रायल पूरा होने के बाद तीसरे चरण का ट्रायल शुरू होगा। इस वैक्सीन की दो डोज चार हफ्तों के अंतराल पर वॉलंटियर्स को दी जाएंगी। एम्स के कम्युनिटी मेडिसिन डॉ. संजय राय ने कहा कि ट्रायल तब शुरू होगा, जब एथिकल अप्रूवल आ जाएगा। इसके अलावा रेगुलेटरी फॉर्मेलिटी पूरी हो जाएंगी, उसके बाद ही ट्रायल शुरू होगा।

ट्रायल के दौरान वॉलंटियर्स को नेजल वैक्सीन की दो डोज चार सप्ताह के अंतर पर दी जाएगी। यह वैक्सीन BBV154 है, जिसकी प्रौद्योगिकी भारत बायोटेक को सेंट लुईस स्थित वाशिंगटन यूनिवर्सिटी से मिली थी। आपको बता दें कि देश में पहली बार कोरोना की नेजल वैक्सील का ट्रायल होने जा रहा है।

Source :
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

लोकप्रिय

To Top