All for Joomla All for Webmasters
जुर्म

एक्स और नए बॉयफ्रेंड के बीच छिड़ी ऐसी जंग, बीच-बचाव करने आई गर्लफ्रेंड की गई जान

फतेहपुर जिले में दुष्कर्म पीड़िता ने शनिवार को घर में फांसी लगाकर जान दे दी। 14 सितंबर को कोर्ट में उसकी गवाही होनी थी। मां का आरोप है कि मुकदमे में सुलह के लिए बेटी के पास अक्सर धमकी भरे फोन आते थे। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा है।

परिजनों की ओर से अभी तहरीर नहीं दी गई है। ललौली थानाध्यक्ष ने मृतका के दुष्कर्म पीड़िता होने की जानकारी से इंकार किया है। थानाक्षेत्र के एक गांव की 17 वर्ष किशोरी के साथ नवंबर 2018 में गांव के एक युवक ने दुष्कर्म किया था।

इसके बाद किशोरी ने आरोपी के खिलाफ दुष्कर्म की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। घटना के बाद से किशोरी परेशान रहती थी। किशोरी की मां ने बताया उसकी बेटी के पास अक्सर धमकी भरे फोन आते थे और उस पर सुलह का दबाव बनाया जाता था।

बेटी की 14 सितंबर को कोर्ट में गवाही थी लेकिन इससे पहले ही उसकी मौत हो गई। घटना के समय किशोरी का पिता बाजार सब्जी बेचने गया था। जबकि मां खेत पर गई थी। उसकी बहनें स्कूल चली गई थीं। दोपहर करीब तीन बजे जब मां खेत से लौटी तो घटना की जानकारी हुई।

घटना की जानकारी पर ललौली पुलिस मौके पर पहुंची और शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा। अभी तहरीर नहीं दी गई है। थानाध्यक्ष योगेंद्र पटेल ने बताया मामले की जांच की जा रही है। मृतका के दुष्कर्म पीड़िता होने की उनको जानकारी नहीं है। हालांकि तत्कालीन विवेचक प्रेमपाल ने बताया कि मामले में चार्जशीट लगाई गई है।

Source :
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

लोकप्रिय

To Top