All for Joomla All for Webmasters
जरूरी खबर

अक्टूबर-नवंबर में Economy भी मनाएगी त्योहार; ई-कॉमर्स कंपनियों से लेकर ऑफलाइन रिटेलर्स को भारी बिक्री की उम्मीद

online_market

नई दिल्ली, जेएनएन। आगामी अक्टूबर-नवंबर में इस बार अर्थव्यवस्था भी त्योहार मनाएगी। कंपनियां अक्टूबर से शुरू होने वाले त्योहार में कंज्यूमर ड्यूरेबल गुड्स, व्हाइट गुड्स, आटो, गारमेंट जैसे सभी प्रमुख क्षेत्रों की बिक्री में भारी बढ़ोतरी की उम्मीद कर रही है। कुछ खास राज्यों तक कोरोना के सीमित रहने एवं टीकाकरण में जबरदस्त तेजी से त्योहारी तेजी को समर्थन मिलने जा रहा है। मैन्यूफैक्चरर्स से लेकर रिटेलर्स तक त्योहारी सीजन में निकलने वाली भारी मांग को भुनाने की तैयारी शुरू कर दी है। त्योहारी सीजन की खरीद-बिक्री में और तेजी के लिए सभी सरकारी बैंक भी अक्टूबर के दूसरे सप्ताह से लोन के लिए विशेष अभियान चलाने जा रहे हैं।

देश की दो सबसे बड़ी ई-कामर्स कंपनियां फ्लिपकार्ट और अमेजन अक्टूबर में बिग बिलियन सेल और ग्रेट इंडियन फेस्टिवल के लिए तैयार हैं। फ्लिपकार्ट ने तो त्योहारी सीजन में होने वाली मांग के अनुमान को देखते हुए 1.15 लाख लोगों को अस्थायी नौकरी देने की घोषणा की है। ऐसे ही अमेजन भी भारी संख्या में लोगों की भर्ती कर रही है। रिटेलर्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया के सीईओ कुमार राजागोपालन कहते हैं, ‘टीकाकरण में तेजी से रिटेलर्स की बिक्री में बढ़ोतरी की पूरी उम्मीद है और यहां तक कि वे कोरोना पूर्व काल से भी बेहतर कारोबार कर सकते हैं।’

एसोसिएशन के मुताबिक गत अगस्त महीने में ही उत्तरी भारत की रिटेल बिक्री वर्ष 2019 के अगस्त माह के 98 फीसद पर तो दक्षिण भारत में 97 फीसद पर पहुंच चुकी है। विशेषज्ञों के मुताबिक त्योहारी सीजन में तीन से पांच लाख तक सीजनल नौकरियों का सृजन हो सकता है और इसमें ई-कामर्स कंपनियां मुख्य भूमिका निभाने जा रही हैं। फ्लिपकार्ट के मुताबिक आने वाले त्योहारी सीजन में 1.2 लाख नए विक्रेता उनके प्लेटफार्म से जुड़ सकते हैं। रिटेल चेन विजय सेल्स से लेकर गोदरेज अप्लायंसेज को त्योहारी सीजन के दौरान कंज्यूमर ड्यूरेबल व व्हाइट गुड्स की बिक्री में भारी बढ़ोतरी की उम्मीद है। क्लोथ मैन्यूफैक्चर्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया के मुताबिक कोरोना की तीसरी लहर की शुरुआत नहीं हुई तो निश्चित रूप से गारमेंट की बिक्री में तेज उछाल आएगी।

शहरों में लोन वितरण के लिए होगा विशेष आयोजन

सरकार भी त्योहारी रुख में और तेजी के लिए सभी शहरों में लोन के लिए विशेष आयोजन करने जा रही है। अक्टूबर के दूसरे सप्ताह से शुरू होने वाले इस लोन अभियान के तहत सभी प्रकार की खरीदारी के लिए लोन दिए जाएंगे। सूत्रों के मुताबिक कोशिश यह होगी कि लोन के इच्छुक लोगों को घंटों में लोन का भुगतान हो जाए। ग्रामीण इलाके में भी माइक्रो फाइनें¨सग कंपनियां एक व्यक्ति को 1.25 लाख रुपये का लोन देंगी। माइक्रो फाइनेंस कंपनियों को बैंक नकदी मुहैया कराएंगे।

Source :
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

लोकप्रिय

To Top