All for Joomla All for Webmasters
राजनीति

पंजाब कांग्रेस में नया घमासान, अब प्रदेश अध्यक्ष पद से सिद्धू ने दिया इस्तीफा

नई दिल्ली: पंजाब कांग्रेस में सियासी खींचतान खत्म होने का नाम नहीं ले रही हैं. अब कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है. पंजाब में कैप्टन अमरिंदर सिंह और सिद्धू के बीच लंबे वक्त से विवाद चल रहा है और कैप्टन ने खुलेआम सिद्धू के खिलाफ बयान दिए थे कि उन्हें किसी भी कीमत पर पंजाब का मुख्यमंत्री नहीं बनने देंगे.

क्यों नाराज हैं नवजोत सिंह सिद्धू?

सिद्धू का इस्तीफा ऐसे वक्त में हुआ है जब कैप्टन अमरिंदर सिंह दिल्ली कूच कर रहे हैं और ऐसा माना जा रहा है कि यहां अमित शाह के साथ उनकी मुलाकात हो सकती है. सिद्धू और कैप्टन के विवाद के बाद ही अमरिंदर सिंह ने मुख्यमंत्री पद छोड़ा था जिसके बाद चरणजीत सिंह चन्नी को पंजाब की कमान सौंपी गई है. हालांकि पहले कयास लगाए जा रहे थे कि सिद्धू को पंजाब का सीएम बनाया जा सकता है लेकिन कांग्रेस नेतृत्व ने आखिरी वक्त पर चौंकाने वाला फैसला लेते हुए दलित चेहरे चरणजीत चन्नी को पंजाब का सीएम बना दिया. 

माना जा रहा है सिद्धू चरणजीत सरकार में विभागों के बंटवारों से नाराज चल रहे हैं, मंत्रियों के विभाग बंटवारे में उनकी सलाह नहीं ली गई. इसके अलावा सुखविंदर रंधावा को गृह विभाग दिया गया है, सिद्धू और उनके समर्थक पहले से इसकी खिलाफत करते आए हैं. पंजाब में कुछ अफसरों के तबादलों से भी सिद्धू नाराज बताए जा रहे हैं.  

सोनिया गांधी को लिखी चिट्ठी

पंजाब में चन्नी सरकार के गठन के बाद सिद्धू को लगातार किनारे किया गया है. कैप्टन अमरिंदर उनके खिलाफ पहले से बयानबाजी कर रहे हैं. ऐसे में माना जा रहा है कि सिद्धू ने इस्तीफा देकर अपनी नाराजगी जाहिर की है. कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को लिखी चिट्ठी में सिद्धू ने कहा है कि वह कभी भी समझौते के लिए तैयार नहीं हैं क्योंकि इससे इंसान के चरित्र का पतन होता है. उन्होंने आगे लिखा कि पंजाब के भविष्य के साथ किसी भी कीमत पर समझौता करने के लिए तैयार नहीं हूं. इसके अलावा सिद्धू ने कहा कि पंजाब की सेवा करता रहूंगा.

इस्तीफे पर कैप्टन ने साधा निशाना

अमरिंदर सिंह ने मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने के बाद सिद्धू को पंजाब और देश विरोधी करार देते हुए कहा था वह पंजाब के लिए खतरा है. कैप्टन ने आरोप लगाया कि सिद्धू के संबंध पाकिस्तान और इमरान खान से हैं जिससे देश की सुरक्षा को खतरा हो सकता है. इसके अलावा उन्होंने सिद्धू को सीएम बनने से रोकने के लिए अपना उम्मीदवार उतारने तक की बात कही थी. उनके इस्तीफे पर कैप्टन ने सिद्धू करते हुए लिखा, ‘मैं पहले ही कह चुका हूं यह स्थिर व्यक्ति नहीं है, पंजाब जैसे बॉर्डर स्टेट के लिए सिद्धू फिट नहीं है.’

कौन होगा अगला प्रदेश अध्यक्ष?

अगले प्रदेश अध्यक्ष के लिए सुनील जाखड़ का नाम सबसे आगे माना जा रहा है, हालांकि पार्टी आलाकमान को इसके लिए उन्हें मनाना पड़ सकता है. जाखड़ को हटाकर ही सिद्धू को पंजाब कांग्रेस की कमान सौंपी गई थी. कांग्रेस के सामने चुनौती ये है कि उनके एक नए सीएम ने अभी कमान संभाली है, कैबिनेट भी एकदम नई है. दूसरी ओर अनुभवी सीएम कैप्टन अमरिंदर और प्रदेश अध्यक्ष सिद्धू ने अपने पद छोड़ दिए हैं.

Source :
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

लोकप्रिय

To Top