All for Joomla All for Webmasters
जरूरी खबर

ATM के बाहर लंबी लाइनें, बैंक से पैसे निकालने में परेशानी, रूस-यूक्रेन युद्ध का असर झेल रही है आम जनता

ATM

रूस ने यूक्रेन पर हमला किया है तो सिर्फ यूक्रेन नहीं, खुद रूस भी प्रभावित हो रहा है. देश में एटीएम के बाहर लंबी-लंबी लाइनें हैं और लोगों को बैंकों से कैश निकालने में परेशानी हो रही हैं.

War Impact on Common Public: यूक्रेन पर रूस के हमले के बाद पश्चिमी देशों द्वारा लगाए गए प्रतिबंधों की आंच आम आदमी महसूस करने लगा है. देश में भुगतान तंत्र (पेमेंट सिस्टम) अब काम नहीं कर रहा है और नगदी निकासी को लेकर भी लोगों को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है. स्थानीय निवासी तेत्याना उस्मानोवा ने कहा,‘‘ एप्पल पे कल से काम नहीं कर रहा है. अब इससे बस में ,कैफे में, कहीं भुगतान नहीं हो पा रहा है.’’

ये भी पढ़ें : UAN नंबर की मदद से जल्द से जल्द करें EPFO ई-नॉमिनेशन का काम, ये है इसका आसान प्रोसेस

सुपरमार्केट में भी प्रति व्यक्ति खरीद की मात्रा सीमित
उन्होंने कहा,‘‘ इसके अलावा एक सुपरमार्केट ने भी प्रति व्यक्ति समान खरीद की मात्रा सीमित कर दी है.’’ एप्पल ने घोषणा की है कि वह रूस में अपने आईफोन और अन्य उत्पाद बेचना बंद कर रहा है साथ ही एप्पल पे जैसी सुविधाओं को भी सीमित करेगा. बड़ी संख्या में विदेशी और अंतरराष्ट्रीय कंपनियों ने रूस में अपने कारोबार को बंद कर दिया है.

कई बैंक के कार्ड को ATM नहीं कर रहे स्वीकार
कई लोगों ने बातचीत में बताया कि इन कदमों से उनकी दैनिक जिंदगी पर काफी असर पड़ रहा है. उन्होंने बताया कि देश की मुद्रा रूबल को विदेशी मुद्रा में बदलने में मुश्किलें आ रही हैं, एटीएम के बाहर लंबी लाइनें हैं और कई बैंक के कार्ड को एटीएम नहीं स्वीकार कर रहे हैं अर्थात उनसे निकासी की सुविधा बंद है.

ये भी पढ़ें : E-Shram Card का फॉर्म फील करते समय हो गई है गलती, इस तरह करें सुधार, नहीं रुकेगी किस्त

खाने-पीने के सामान के दाम बढ़ने लगे
कुछ लोगों ने बताया कि खाने पीने के सामान के दाम भी बढ़ने लगे हैं. विपक्ष की नेता यूलिया गालयेमिना ने बुधवार को फेसबुक पोस्ट में लिखा कि लोग दाम बढ़ने की समस्या का सामना कर रहे हैं, पेंशन रूकी हुई हैं. उन्होंने लिखा, “दवाइयों और चिकित्सीय साजो सामान की कमी हो रही है. हम 1990 को अब कम खराब वक्त के तौर पर याद करेंगे. लेकिन मेरा प्रश्न है कि “किस लिए” ?

रूस में बड़ी संख्या में लोग युद्ध के खिलाफ
गौरतलब है कि देश में बड़ी संख्या में लोग युद्ध के खिलाफ हैं और इसे रोकने के लिए सड़कों पर प्रदर्शन कर रहे हैं. मानवाधिकार समूह ‘ओवीडी-इन्फो’ के अनुसार बीते कुछ वक्त में सात हजार से अधिक प्रदर्शनकारियों को हिरासत में लिया गया है.

Source :
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

लोकप्रिय

To Top