All for Joomla All for Webmasters
दुनिया

क्या देश छोड़कर भाग गए हैं यूक्रेन के राष्ट्रपति? विपक्षी नेता ने किया ये बड़ा दावा

ukraine

रूस के हमले के बीच यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की को लेकर तरह-तरह के दावे किए जा रहे हैं. रूसी मीडिया का कहना है कि जेलेंस्की मुल्क छोड़कर भाग गए हैं. अब यूक्रेन के एक विपक्षी नेता ने इस मामले में बड़ा दावा किया है.  

कीव: रूसी सेना यूक्रेन की राजधानी कीव में दाखिल हो चुकी है (Russia-Ukraine War). कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में कहा गया है कि सेना के पास एक हिट लिस्ट है, जिसमें यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की (Volodymyr Zelenskyy) सहित 24 टॉप अफसरों के नाम हैं. यानी इन सभी को मौत के घाट उतारना है. ऐसे में जेलेंस्की को लेकर तरह-तरह की खबरें आ रही हैं. रूस की तरफ से दावा किया गया था कि यूक्रेनी प्रेसिडेंट मुल्क छोड़कर भाग गए हैं, लेकिन कीव ने इसका खंडन किया था. अब यूक्रेन के ही विपक्षी नेता ने एक बड़ा दावा किया है.   

US ने दिया था जेलेंस्की को ऑफर 

रूसी मीडिया की तरफ दावा किया गया था कि वोलोदिमीर जेलेंस्की यूक्रेन की राजधानी कीव के बंकर से निकलकर पोलैंड भाग गए हैं. अब यूक्रेन के एक विपक्षी नेता का कहना है कि प्रेसिडेंट जेलेंस्की पोलैंड में मौजूद अमेरिकी एम्बेसी में छिपे हैं. महज दो दिन पहले अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन (Joe Biden) ने सार्वजनिक रूप से कहा था कि जेलेंस्की जब चाहें उन्हें यूक्रेन से एयरलिफ्ट कर लिया जाएगा. हालांकि, यूक्रेन की संसद  ने जारी बयान में कहा है कि जेलेंस्की अभी भी कीव में ही हैं.

Read more:‘भारतीयों की वापसी के लिए गई रूसी बस खाली लौटी, यूक्रेन से नहीं मिली सुरक्षा की गारंटी’, रूस का दावा

न्यूक्लियर पावर प्लांट को लेकर हड़कंप

इसी बीच, जेपोरिजिया न्यूक्लियर पावर प्लांट पर रूस के कब्जे से पूरे यूरोप में हड़कंप मच गया है. जेपोरिजिया प्लांट में 6 रिएक्टर्स हैं, इसे पूरे यूरोप में सबसे बड़ा और दुनिया पर 9वां सबसे बड़ा रिएक्टर माना जाता है. रूस ने इस न्यूक्लियर प्लांट पर हमला करने के बाद कब्जा कर लिया है. खबर है कि प्लांट में इमरजेंसी रिस्पॉन्डर्स को अंदर जाने की परमिशन मिल गई है. अमेरिकी अफसरों के मुताबिक, प्लांट से रेडिएशन लेवल बढ़ने का कोई संकेत नहीं दिखा है. फिलहाल निगरानी की जा रही है.

Read more:अमेरिकी सांसद ने जंग रोकने का बताया अनोखा रास्‍ता, बोले- ‘यदि पुतिन की…’

जारी है प्रतिबंधों का सिलसिला

उधर, रूस को सबक सिखाने के लिए अमेरिका की तरफ से प्रतिबंधों का सिलसिला जारी है. शुक्रवार को रूस पर नया प्रतिबंध लगाया गया है. व्हाइट हाउस ने बताया कि पुतिन के प्रेस सेक्रेटरी दमित्री पेस्कोव सहित 66 रूसी नागरिकों के वीजा पर बैन लगाया गया है. इससे पहले अमेरिका ने रूस के डिफेंस एक्सपोर्ट पर प्रतिबंध लगाया था. वहीं, एशियन इन्फ्रास्ट्रक्चर इन्वेस्टमेंट बैंक (AIIB) ने रूस और बेलारूस से जुड़े कारोबार को सस्पेंड कर दिया है. इसके अलावा अमेरिका ने यूक्रेन के लोगों को टेंपरेरी प्रोटेक्टेड स्टेटस देने का निर्णय किया है. इससे यूक्रेनी यूएस में 18 महीने तक बिना किसी रोक-टोक के रह सकते हैं. 

Source :
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

लोकप्रिय

To Top