All for Joomla All for Webmasters
पंजाब

कॉमेडी शो से लेकर पंजाब के CM चुने जाने तक, ऐसा रहा ‘आप’ के भगवंत मान का सफर

पंजाब का नया ‘सरदार’

पंजाब में इस  बार भगवंत मान के सिर मुख्यमंत्री पद का सेहरा बंधना तय हो गया है. राज्य में आम आदमी पार्टी बड़े बहुमत से चुनाव जीतने वाली है. वहीं भगवंत मान ने भी अपनी धुरी विधानसभा सीट पर जीत दर्ज कर ली है. उनके प्रतिद्वंद्वी कांग्रेस के दलबीर सिंह गोल्डी चुनाव हार गए हैं.

पूरी हुई मन्नत

नतीजे के दिन सुबह सबसे पहले भगवंत मान ने गुरुद्वारे पहुंचकर मत्‍था टेका था. वे संगरूर के गरुद्वारा गुरसागर मस्तुआना पहुंचे थे. वहीं पंजाब में कांग्रेस के सीएम पद के उम्मीदवार चरणजीत सिंह चन्नी ने भी दिन की शुरुआत गुरुद्वारे में मत्था टेककर की थी. 

शुरुआत से बनाई बढ़त

तमाम एग्जिट पोल में बताया गया कि आम आदमी पार्टी इस बार पंजाब में सरकार बना सकती है. AAP ने भगवंत मान को अपना मुख्यमंत्री पद का चेहरा बनाया था. वह शुरुआती रुझान से ही बढ़त बनाए हुए थे.

पहले सांसद अब बनेंगे मुख्यमंत्री

भगवंत मान इस समय आम आदमी पार्टी के सांसद हैं. वह दूसरी बार लोकसभा पहुंचे हैं. वह संगरूर सीट से सांसद हैं. धुरी विधानसभा सीट इसी क्षेत्र में आती है.

अपार जनसमर्थन

पंजाब की धूरी विधान सभा से आम आदमी पार्टी के मुख्यमंत्री पद के चेहरे भगवंत मान ने 38000 से ज्यादा वोटों से जीत दर्ज की है.

भरोसा बरकरार

भगवंत मान का जन्म 17 अक्टूबर 1973 को भारत में पंजाब के संगरूर जिले के सतोज गांव में हुआ था. उन्होंने पंजाब के संगरूर में स्थित एसयूएस कॉलेज से बीकॉम किया है. कॉमर्स के क्षेत्र में ग्रेजुएशन करने के बाद मान नौकरी या बिजनेस से दूर रहे क्योंकि वह कुछ हटकर करना चाहते थे. 

वर्तमान विधायक को हराया

‘कोई नहीं है टक्कर में’

भगवंत मान को कांग्रेस के दलबीर सिंह चुनौती दे रहे थे. दलबीर सिंह ने 2017 के चुनाव में जीत हासिल की थी. इससे पहले 2012 में कांग्रेस पार्टी के ही उम्मीदवार अरविंद खन्ना यहां से विधायक बने थे.

‘जुगनू’ जो पूरे पंजाब में चमकेगा

भगवंत मान कॉमेडी से लेकर राजनीति तक हर जगह अपन अनाम बना चुके हैं लेकिन आज भी वो अपने घरवालों के लिए जुगनू हैं. घर वालों का मानना था कि वे उनका ये बच्चा एक जुगनू है जो अपनी अंधेरे में रोशनी की किरण दिखाता है. भगवंत मान की शादी इंद्रप्रीत कौर से हुई थी हालांकि 2015 में दोनों अलग हो गए. दोनों के दो बच्चे हैं. 

सियासत के 10 साल

भगवंत मान राजनीति करियर की बात करें तो मान शुरू से ही आम आदमी पार्टी (AAP) का हिस्सा नहीं रहे हैं. बल्कि राजनीति पारी की शुरुआत उन्होंने मनप्रीत सिंह बादल की पार्टी पंजाब पीपल्स पार्टी से की थी. वो साल 2012 में लहरा विधान सभा सीट से चुनाव लड़े थे, लेकिन असफल रहे थे. इसके बाद मनप्रीत कांग्रेस में शामिल हो गए और भगवंत मान आम आदमी पार्टी में आ गए. 2014 में भगवंत मान आम आदमी पार्टी से जुड़े और संगरूर लोक सभा सीट से आम आदमी पार्टी के टिकट पर चुनावी मैदान में अपने नाम का डंका बजवा दिया था. यहां वो 2 लाख से ज्यादा वोटों से जीते थे. 

Source :
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

लोकप्रिय

To Top