All for Joomla All for Webmasters
हेल्थ

कहीं आपके शरीर में विटामिन डी की कमी तो नहीं? जानिए किन लोगों को रहता है ज्यादा खतरा

medicines

क्या आपके भी घर में बड़े बुजुर्ग है? जिन्हें अक्सर जोड़ों में दर्द, तनाव, अकेलापन महसूस होता है, लेकिन आप पता नहीं कर पाते कि ऐसा क्यों हो रहा है. तो जानिये इसके पीछे क्या कारण हैं?

वैसे तो शरीर को एकदम तंदरुस्त रखने के लिए सभी विटामिन्स की जरुरत होती है, लेकिन जब व्यक्ति के शरीर में विटामिन डी की कमी हो जाती है तो शरीर धीरे-धीरे कमजोर पड़ने लगता है. इतना ही नहीं, यदि बुजुर्ग लोगों को विटामिन डी की कमी हो जाती है तो हड्डियां बेहद कमजोर हो जाती है. बढ़ती उम्र के साथ कमजोरी बढ़ती ही चली जाती है. ऐसे में समय रखते ही ध्यान देना अनिवार्य है, ताकि उम्र के साथ शरीर जवाब न दे दें. अक्सर आपने सुना होगा जिन्हें विटामिन डी की कमी होती है, उन्हें धूप सेकने की सलाह दी जाती है और जिन्हें विटामिन डी की बहुत ज्यादा कमी होती है, तो व्यक्ति को धूप सेकने के साथ ही साथ दवाएं भी दी जाती हैं. समय रहते परेशानी को पहचानना और डॉक्टर का सलाह लेना बहुत ज्यादा जरुरी होता है, ताकि आपको आगे चलकर ज्यादा परेशानी न हो. चलिए जानते हैं कि किन लोगों में विटामिन डी की कमी ज्यादा होती है.

जिनकी स्किन डार्क होती है- जिन भी लोगों की स्किन डार्क होती है उन्हें विटामिन डी की कमी होती ही होती हैं ,क्योकि उनकी त्वचा की सबसे पहली लेयर में मेलेनिन मौजूद होता है जिसके कारण उन्हें विटामिन डी की जरुरत ज़्यादा मात्रा में होती है. पर्याप्त विटामिन डी न मिलने पर विटमिन डी की कमी महसूस होने लगती है.

जो लोग नॉनवेज खाते हैं- जैसा कि आप सभी जानते है कि नॉनवेज, प्रोटीन का सोर्स माना जाता है ऐसे में अक्सर नॉनवेज खाने वाले लोगों को प्रोटीन तो पर्याप्त मात्रा में मिलता है लेकिन विटामिन की कमी रह ही जाती है. विटामिन डी के सोर्स के लिए व्यक्ति को ज्यादा से ज्यादा सब्जी, फल, दूध और धूप सेकनी चाहिए. इससे विटामिन डी की कमी महसूस नहीं होगी.

डेस्क जॉब करने वाले लोग- यह सुनके तो बड़ा ही अजीब लगता है, लेकिन असलियत ये है कि जो भी लोग डेस्क जॉब करते है उन्हें बस एक जगह बैठकर काम करना पड़ता है. ज़्यादातर लोग सुबह 8 बजे ही अपने अपने घरों से निकल जाते हैं जो सबसे बड़ी वजह है कि ऐसे लोगों को धूप नहीं मिल पाती है. ऑफिस पहुंचकर डेस्क पर बैठ जाओ और फिर शाम को बाहर निकलो. ऐसे में पूरे दिन शरीर को धूप के दर्शन भी नहीं हो पाते हैं, जिससे विटामिन डी की कमी होने लगती है. 

50 साल से ज़्यादा उम्र वाले लोग- जैसे जैसे उम्र बढ़ती है शरीर में कई तरह की बीमारियां भी होने लगती है. वैसे तो 50 साल के बाद धीरे- धीरे शरीर जवाब देने लगता और कई तरह की कमी महसूस होने लगती है. ऐसे में शरीर में विटामिन डी की कमी सबसे ज्यादा होती है. विटामिन की कमी के साथ-साथ शरीर में प्रोटीन, कैल्शियम और मिनरल्स की भी कमी हो जाती है. ऐसे लोगों को चिड़चिड़ापन, तनाव, अकेलापन, जोड़ों में दर्द सभी एक साथ महसूस होने लग जाता है.

Source :
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

लोकप्रिय

To Top