All for Joomla All for Webmasters
जरूरी खबर

Credit Card को अपग्रेड कराने से पहले जान लें यह जरूरी बातें, बाद में फायदे में रहेंगे आप!

Credit Card

अपने खर्च और कमाई को सही तरीके से चेक करने के बाद ही क्रेडिट कार्ड अपग्रेड कराने का फैसला लें. कई बार लोग दूसरों को देखकर क्रेडिट कार्ड अपग्रेड करा लेते हैं जिसकी उन्हें जरूरत नहीं होती है.

पिछले एक 10 से 15 सालों में बैंकिंग में बहुत बड़े और क्रांतिकारी बदलाव हुए हैं. एक समय जब लोग कैश निकालने के लिए बैंकों के बाहर लंबी-लंबी लाइनों में खड़े होते थे. लेकिन,तकनीक में बदलाव के साथ बैंकिंग व्यवस्था में कई नई सुविधाएं जुड़ने लगी. इसमें नेट बैंकिंग, क्रेडिट कार्ड, डेबिट कार्ड, यूपीआई पेमेंट आदि जैसी कई नई सुविधाएं शुरू हो गई. आजकल लोग जमकर क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल करने लगे. बैंक और फाइनेंशियल कंपनी भी लोगों को कम चार्जेस पर क्रेडिट कार्ड मुहैया करा रहे हैं.

कई ई-कॉमर्स कंपनियां भी क्रेडिट कार्ड बड़े डिस्काउंट के ऑफर्स देने लगी हैं. लोग महीने भर क्रेडिट कार्ड से आसानी से शॉपिंग करते हैं और महीने के अंत में वह इसका बिल भरते हैं. कई बार ग्राहकों को कंपनियां क्रेडिट कार्ड अपग्रेड करने का ऑफर देती है. तो चलिए हम आपको विस्तार से बताते हैं कि क्रेडिट कार्ड अपग्रेड क्या होता है और क्रेडिट कार्ड को अपग्रेड करते वक्त हमें किन बातों का खास ख्याल रखना चाहिए

ये भी पढ़ें : HDFC Bank के ग्राहकों को अब मिलेंगी और शानदार सर्विसेज, RBI ने उठाया बैन 

क्या है क्रेडिट कार्ड अपग्रेड?
जब हम किसी बैंक या कंपनी से पहली बार क्रेडिट कार्ड लेते हैं तो वह हमें बेसिक क्रेडिट कार्ड देते हैं. इसके बाद आप अपनी जरूरतों के अनुसार क्रेडिट कार्ड लिमिट को बढ़ा सकते हैं. क्रेडिट कार्ड अपग्रेड कराने पर आप लिमिट बढ़ाने के साथ की नई सुविधाएं भी ऐड की जाती है. लेकिन, इसके साथ ही बैंक आपसे ज्यादा चार्ज भी वसूलता है.  इसलिए कई बार बिना सोचें समझें क्रेडिट कार्ड अपग्रेड करना आपको बड़ी मुसीबत में डाल सकता है.

ये भी पढ़ें : Holi से पहले आम जनता को बड़ा झटका! दूध-मैगी और गैस सिलेंडर से लेकर सबकुछ हो चुका है महंगा

क्रेडिट कार्ड अपग्रेड कराते वक्त रखें इन बातों का ख्याल-
-अपने खर्च और कमाई को सही तरीके से चेक करने के बाद ही क्रेडिट कार्ड अपग्रेड कराने का फैसला लें. की बार लोग दूसरों को देखकर क्रेडिट कार्ड अपग्रेड करा लेते हैं जिसकी उन्हें जरूरत नहीं होती है. इस कारण बाद में वह कर्ज के जाल में फंस जाते हैं. इसलिए यह चेक करें कि आपको इस अपग्रेड की जरूरत है या नहीं.वरना बाद में आप ज्यादा क्रेडिट कार्ड चार्ज के कारण कर्ज के जाल में फंस सकते हैं.
-क्रेडिट कार्ड अपग्रेड कराते वक्त कार्ड पर लगने वाले ब्याज दर को जरूर चेक करें. बता दें कि ज्यादा फैसिलिटी वाले क्रेडिट कार्ड में ब्याज दर भी ज्यादा लगाया जाता है. इसलिए पहले इसकी सही जानकारी लें और उसके बाद ही क्रेडिट कार्ड अपग्रेड कराएं.
-क्रेडिट कार्ड अपग्रेड करते वक्त रिवॉर्ड प्वाइंट्स की जानकारी लेना भी बहुत जरूरी है. कार्ड अपग्रेड से पहले चेक करें कि शॉपिंग, फ्यूल रिचार्ज आदि में आपको कितनी रिवॉर्ड प्वाइंट्स की सुविधा मिलेगी. इन सभी को चेक करने के बाद ही कोई फैसला लें.
-क्रेडिट कार्ड को बैंक के जबरदस्ती करने पर ही सिर्फ न लें. क्रेडिट कार्ड अपग्रेड कराने का फैसला आपका खुद का होना चाहिए.

Source :
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

लोकप्रिय

To Top