All for Joomla All for Webmasters
जरूरी खबर

PF खाते में करना है बैंक डिटेल्स को अपडेट तो फॉलो करें यह प्रोसेस

अगर अपन पीएफ खाते में बैंक डिटेल्स की जानकारी अपडेट करना चाहते हैं तो इसके लिए EPFO के ऑफिस के चक्कर लगाने की जरूरत नहीं है.

PF हर नौकरीपेशा व्यक्ति के जीवन की जमा पूंजी होती है. रिटायरमेंट के बाद लोगों को पीएफ में जमा पैसा मिल जाता है जिससे वह आगे का जीवन आराम से काट सकें. आज हम आपको पीएफ खाते में ब्याज से जुड़ी अहम जानकारी देने वाले हैं. अगर ईपीएफ खाते में अपने बैंक डिटेल्स को अपडेट करना चाहते हैं तो इस काम को जल्द से जल्द निपटा लें. वरना खाते में ब्याज का पैसा आने पर आपको इसका लाभ नहीं मिल पाएगा. साथ ही खाते में सही बैंक जानकारी न होने पर पीएफ विड्रॉल के समय आपको बड़ी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है.

ये भी पढ़ें –महंगाई भत्‍ता 3 फीसद से ज्‍यादा बढ़ाने के सवाल पर जानिए क्‍या बोले वित्‍त राज्‍य मंत्री

अगर अपने पीएफ खाते में बैंक डिटेल्स की जानकारी को अपडेट करना है तो इसके लिए आपको ईपीएफओ के ऑफिस के चक्कर लगाने की जरूरत नहीं है. आप घर बैठे ऑनलाइन जानकारी अपडेट कर सकते हैं. इसके लिए केवल खाताधारक के पास  यूनिवर्सल अकाउंट नंबर या UAN नंबर होना चाहिए. UAN नंबर किसी भी खाताधारक का नहीं बदलता है. नौकरी चेंज करने पर  यूनिवर्सल अकाउंट नंबर या UAN नंबर वही रहता है. अगर आप भी अपने पीएफ खाते में बैंक डिटेल्स को अपडेट करना चाहते हैं तो इन आसान स्टेप्स को फॉलो करें-

इस तरह ईपीएओ खाते में दर्ज करें बैंक डिटेल्स-

  • Step 1: बैंक खाते की जानकारी को अपडेट करने के लिए आप https://unifiedportal-mem.epfindia.gov.in/memberinterface/ पर क्लिक करें.
  • Step 2: इसके बाद आप यहां अपने पीएफ खाते पर लॉगइन करें.
  • Step 3: यहां आपको Manage टैब दिखेगा जिसमें KYC ऑप्शन पर क्लिक करें.
  • Step 4: इसके बाद डॉक्यूमेंट के ऑप्शन में बैंक के नाम दर्ज करें. इसके बाद बैंक खाते दर्ज आपका नाम, IFSC कोड और अकाउंट नंबर डालें.
  • Step 5: इसके बाद इस सभी जानकारी को एक बार देखकर सेव कर दें.

ये भी पढ़ेंटैक्स बचाने के लिए SBI Tax-Saving FD ऑनलाइन कैसे खोलें? जान लें आसान तरीका

बैंक डिटेल्स की जानकारी कंपनी करेगी वेरीफाई-
इस डेटा को सेव करने के बाद इससे जुड़े सभी डॉक्यूमेंट्स जैसे बैंक खाते का पासबुक आदि आपको कर्मचारी निधि संगठन में जमा करनी होगी. इसके बाद संगठन वेरीफाई करेगा. वेरिफिकेशन की प्रक्रिया पूरी होने के बाद खाताधारक को मोबाइल नंबर पर इस बात का Confirmation आएगा. इसके बाद KYC की प्रक्रिया पूरी की जाएगी. 

Source :
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

लोकप्रिय

To Top