All for Joomla All for Webmasters
जम्मू और कश्मीर

Srinagar News: सात साल की बच्ची की हिम्मत को सलाम, आतंकियों के आगे डट गई, मगर मौके से भागी नहीं सफा

Jammu Kashmir News: सफा अपने पिता को बचाने के लिए आतंकियों के आगे डटकर कड़ा प्रतिरोध करने लगी. लेकिन आतंकियों को उनपर रहम नहीं किया और उन्होंने दोनों पर गोलियों की बौछार कर दी.

Srinagar Terrorist Attack: श्रीनगर शहर के बाहरी इलाके सौरा में आतंकियों ने मंगलवार को एक और कायरतापूर्ण हमला किया. मगर इस बार उनका सामना सुरक्षाबलों के साथ-साथ एक दिलेर सात साल की बच्ची से हो गया. दरअसल पुलिस कांस्टेबल सैफुल्ला कादरी अपनी सात साल की हेटी को ट्यूशन छोड़ने के लिए घर के गेट के बाहर ही निकले थे कि सामने से आतंकियों ने कांस्टेबल पर बंदूकें तान दीं. यह देख सात साल की मासूम सफा सबकुछ भांप गई.

आतंकिओं के आगे डट गई सफा
इसके बाद सफा अपने पिता को बचाने के लिए आतंकियों के आगे डट गई और कड़ा प्रतिरोध करने लगी. लेकिन आतंकियों को कोई रहम नहीं आया और उन्होंने दोनों पर गोलियों की बौछार कर दी. इस हमले में कांस्टेबल शहीद हो गए और उनकी बेटी सफा गोली लगने से घायल हो गई. सफा के दाहिने हाथ पर गोली लगी है और उसका अस्पताल में इलाज चल रहा है. हालांकि उसकी हालत खतरे से बाहर है.

घायल बेटी का इलाज जारी
वहीं, इस हमले के बाद सुरक्षाबलों ने पूरे इलाके को घेरकर आतंकियों को पकड़ने के लिए अभियान शुरू कर दिया है. घटना मंगलवार शाम श्रीनगर के अंचर इलाके के मलिक मोहल्ला में हुई. हमले के समय सैफुल्ला कादरी के स्वजन घर पर ही थे. गोलियों की आवाज सुनकर स्वजन भागकर बाहर आए और खून से लथपथ सैफुल्ला और सफा को देखकर पड़ोसियों की मदद से उन्हें तुरंत शेर ए-कश्मीर इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल सांइसेस (सौरा) पहुंचाया. लेकिन कांस्टेबल कादरी ने अस्पताल में इलाज के दौरान दम तोड़ दिया, जबकि घायल बेटी का इलाज जारी है. इसी बीच आतंकी भी घटनास्थल से भाग निकले. 

हत्यारे आतंकी जल्द पकड़े जाएंगे
कश्मीर के आईजी पुलिस विजय कुमार ने कहा कि हत्यारे आतंकियों को पकड़ने के लिए पुलिस टीमों को आसपास के इलाकों में भेजा गया है. हम जल्द ही उनका पता लगा लेंगे. पूरे क्षेत्र को घेर कर तलाशी अभियान चलाया जा रहा है.

एक महीने में तीन पुलिसकर्मी बलिदान 
बता दें कि कश्मीर में एक महीने के भीतर आतंकी घटनाओं में तीन पुलिसकर्मी शहीद हो चुके हैं. जबकि इससे पहले सात मई को आतंकियों ने अली जान रोड पर पुलिस के जवान गुलाम हसन को गोली मार कर हत्या कर दी थी. इसके बाद 13 मई को पुलवामा जिले में भी आतंकी हमले में पुलिसकर्मी रियाज अहमद शहीद हो गए थे.

Source :
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

लोकप्रिय

To Top