All for Joomla All for Webmasters
खेल

CWG 2022: भारत ने कॉमनवेल्थ गेम्स में एक दिन में जीते 5 गोल्ड सहित सबसे अधिक मेडल, ये रही पूरी डिटेल

CWG

Commonwealth Games 2022: भारत ने रविवार को बर्मिंघम काॅमनवेल्थ गेम्स में सबसे अच्छा प्रदर्शन किया. बॉक्सिंग, एथलेटिक्स और टेबल टेनिस में 5 गोल्ड मेडल मिले. इसके अलावा खिलाड़ियों ने हमें एक दिन में सबसे अधिक मेडल भी दिलाए.

ये भी पढ़ें- प्राइवेट बैंक ने दी खुशखबरी, जमा रकम पर बढ़ा दी ब्याज दर, यूं होगा फायदा

बर्मिंघम. भारतीय खिलाड़ियों ने रविवार को कॉमनवेल्थ गेम्स में (Commonwealth Games 2022) सबसे अच्छा प्रदर्शन किया. बॉक्सिंग में तीन जबकि टेबल टेनिस और एथलेटिक्स में एक-एक गोल्ड मिला. भारत को कुल 15 मेडल मिले. इससे पहले शनिवार को 14 मेडल मिले थे. गेम्स में अब तक भारत को 55 मेडल मिल चुके हैं और वह टेबल में 5वें नंबर पर है. आज अंतिम दिन उसे हाॅकी से लेकर बैडमिंटन में और टेबल टेनिस में अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद होगी. पीवी सिंधु और लक्ष्य सेन भारत को गोल्ड दिला सकते हैं. दोनों बैडमिंटन में सिंगल्स के फाइनल में पहुंचे हैं. दूसरी ओर टेबल टेनिस में अचंता शरत कमल भी गोल्ड मेडल का मुकाबला खेलेंगे. भारत को अब तक 18 गोल्ड, 15 सिल्वर और 22 ब्रॉन्ज मेडल मिला है.

बॉक्सिंग में मौजूदा वर्ल्ड चैम्पियन निकहत जरीन, अमित पंघाल और नीतू गंघास ने गोल्ड जीते, तो सागर को सिल्वर मेडल मिला. 26 साल की निकहत ने लाइट फ्लाईवेट (48-50 किग्रा) स्पर्धा में उत्तरी आयरलैंड की कार्ले मैकनॉल पर एकतरफा फाइनल में 5-0 से जीत दर्ज की. पंघाल ने पिछले गेम्स के फाइनल में मिली हार का बदला चुकता करते हुए पुरुष फ्लाईवेट वर्ग में जबकि नीतू गंघास ने डेब्यू गेम्स में ही दबदबा बनाते हुए गोल्ड अपनी झोली में डाले. वहीं सुपर हैवीवेट (92 प्लस) वर्ग में सागर अंकों के आधार पर इंग्लैंड के ओरी डेलिशियस से 0-5 से हार गए और उन्हें सिल्वर से संतोष करना पड़ा.

ये भी पढ़ें- RBI Monetary policy: विदेशी मुद्रा भंडार में भारत दुनिया का चौथा सबसे बड़ा देश, जानें आरबीआई गवर्नर ने FDI पर क्या कहा

बैडमिंटन में मिला 2 ब्रॉन्ज
लक्ष्य सेन और पीवी सिंधु ने सिंगल्स के फाइनल में जगह बनाई. वहीं किदांबी श्रीकांत और त्रिसा जॉली व गायत्री गोपीचंद ने महिला डबल्स में ब्रॉन्ज मेडल जीते. इसके अलावा पुरुष डबल्स में सात्विकसाईराज और चिराग शेट्टी की भारतीय जोड़ी गोल्ड मेडल से एक जीत दूर है. सेमीफाइनल में हार के बाद श्रीकांत ब्रॉन्ज के दावेदार थे, लेकिन उन्हें सिंगापुर के जिया हेंग तेह ने चोटिल होने के बाद कड़ी टक्कर दी. श्रीकांत 21-15, 21-18 से जीते. वहीं महिला डबल्स में गायत्री और त्रिसा ने ऑस्ट्रेलिया की सुआन यू वेंडी चेन और ग्रोनिया समरविले को 21-15, 21-18 से हराया.

शरत की जोड़ी ने जीता गोल्ड, मिले 2 मेडल
टेबल टेनिस खिलाड़ी अचंता शरत कमल ने पुरुष सिंगल्स के फाइनल में प्रवेश कर लिया और मिक्स्ड डबल्स में श्रीजा अकुला के साथ गोल्ड जीता. अचंता और श्रीजा की जोड़ी ने मलेशिया के जावेन चुंग और कारेन लाइने को 11-4, 9-11, 11-5, 11-6 से हराकर स्वर्ण जीता. वहीं शरत कमल और जी साथियान ने पुरुष डबल्स में सिल्वर जीता. शरत कमल और साथियान को इंग्लैंड के पॉल ड्रिंकहाल और लियाम पिचफोर्ड ने बेहद रोमांचक मुकाबले में 8-11, 11-8, 11-3, 7-11, 11-4 से हराकर गोल्ड जीता.

Source :
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

लोकप्रिय

To Top