All for Joomla All for Webmasters
जरूरी खबर

Aadhaar: आधार में होगा बड़ा बदलाव, हर 10 साल में अपडेट करा सकते हैं बायोमैट्रिक्स

Aadhaar Card

Aadhaar Update: मौजूदा समय में आधार कार्ड सबसे ज्यादा जरूरी डॉक्यूमेंट बन चुका है और अब इसके दायरे को बढ़ाने की भी तैयारी शुरू हो गई है. इसी सिलसिले में आधार की सरकारी एजेंसी यूनीक आइडेंटिफिकेशन अथॉरिटी ऑफ इंडिया (UIDAI) ने राज्यों से कहा है कि वो अपने-अपने राज्य में सरकारी दायरा बढ़ाएं, जिससे सरकारी पैसे की बर्बादी कम हो. इसके लिए सरकार ने नई पहल शुरू की है. इसके तहत UIDAI लोगों को हर 10 साल में अपना आधार और बायोमैट्रिक डीटेल्स को अपेडट करने के लिए प्रोत्साहित करेगी. हालांकि UIDAI ने ये भी कहा है कि ये करना किसी के लिए जबरदस्ती नहीं है बल्कि सलाह है. UIDAI का ये भी कहना है कि इससे फर्जी आधार पर लगाम लगेगी और लोगों का डाटा भी पूरी तरह से सुरक्षित रहेगा. 

ये भी पढ़ें-Bank Rules for Loan: पर्सनल लोन लेने के बाद व्‍यक्ति की हो जाए मृत्‍यु तो किसे करना होता है बकाया भुगतान ?

अपनी इच्छा से कराएंगे अपडेट

UIDAI ने अपने नोटिफिकेशन में कहा कि हर 10 साल में कोई भी व्यक्ति अपनी इच्छा से बायोमैट्रिक्स और डेमोग्राफिक डीटेल्स को अपडेट कर सकता है. हालांकि अभी ये नियम नहीं है, बस सलाह है. मौजूदा नियम के मुताबिक, 5-15 साल की उम्र के बच्चों को अपना बायोमैट्रिक डाटा अपडेट कराने की अनुमति दी जाती है. बता दें कि 70 साल से ज्यादा उम्र के व्यक्ति को अपनी बायोमैट्रिक डीटेल अपडेट कराने की जरूरत नहीं होगी. 

आधार केंद्र से करा सकते हैं अपडेट

ये भी पढ़ें-पोस्ट ऑफिस की MIS स्कीम के कई फायदे, एक बार करें निवेश, हर महीने मिलेगा पैसा

अगर आपको भी अपना आधार कार्ड अपडेट करवाना है तो आप नजदीकी आधार केंद्र पर जाकर करा सकते हैं. इसके अलावा आधार के दुरुपयोग को रोकने के लिए UIDAI उसे लॉक करने की सलाह देता है. ये एक तरह का खास फीचर है जिसमें अस्थायी तौर पर आधार नंबर को लॉक और अनलॉक किया जाता है. इससे कार्ड होल्डर का सारा डाटा सुरक्षित रहता है और गोपनीयता बनी रहती है. 

90% से ज्यादा युवाओं का बन चुका है आधार

ये भी पढ़ें–Income Tax Rebate : आपकी सैलरी में शामिल हैं 10 तरह की टैक्स छूट, क्या ITR फाइल करते समय करते हैं क्लेम, यहां पाएं पूरी जानकारी

सरकारी आंकड़ों की बात करें तो देश में 0-5 साल के वित्तीय वर्ष अप्रैल से जुलाई के बीच 79 लाख एनरोल किए हैं. इसके अलावा 5 साल से ज्यादा उम्र के 2.64 करोड़ बच्चों के पास 31 मार्च 2022 तक बाल आधार था. हालांकि ये आंकड़ा जुलाई में बढ़कर 3.43 करोड़ हो गया. इसके अलावा देश में अभी तक 93.41 फीसदी 18 साल से ज्यादा आयु के लोगों का आधार कार्ड बनाया जा चुका है. 

Source :
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

लोकप्रिय

To Top