All for Joomla All for Webmasters
बिज़नेस

सर्दियों के उत्पादों की शुरुआती मांग से एफएमसीजी कंपनियां उत्साहित, ग्रामीण बाजार से भी उम्मीद

सर्दियों के उत्पादों की शुरुआती मांग से एफएमसीजी कंपनियां उत्साहित दिखाई दे रही है. ग्रामीण बाजार से भी उम्मीद की जा रही है कि मांग में बढ़ोतरी हो सकती है. फसल अच्छी रहने से आगामी तिमाही में ग्रामीण क्षेत्रों से आने वाली मांग में वृद्धि की उम्मीद है.

दैनिक उपभोग का सामान (FMCG) बनाने वाली कंपनियां सर्दियों के उत्पादों की शुरुआती मांग और सकारात्मक रूझान से उत्साहित हैं. उन्हें उम्मीद है कि पारा जैसे-जैसे गिरता जाएगा, इन उत्पादों का इस्तेमाल भी बढ़ेगा और ग्रामीण इलाकों से वृद्धि को गति मिलेगी.

ये भी पढ़ें– गजब! बेंगलौर में किराये पर मकान के लिए चाहिए खास क्‍वालीफिकेशन, ऑनर मांग रहे सैलरी स्लिप और बैकग्राउंड की डिटेल

डाबर, इमामी और मैरिको जैसी कंपनियों के सर्दियों के उत्पादों की बिक्री तेज हुई है जिनमें त्वचा की देखभाल वाले उत्पादों से लेकर प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने वाले च्यवनप्राश और शहद जैसे उत्पाद शामिल हैं.

कंपनियों को उम्मीद है कि फसल अच्छी रहने और सामान्य मुद्रास्फीति में नरमी आने से आगामी तिमाहियों में ग्रामीण क्षेत्रों में बिक्री बढ़ेगी. ई-कॉमर्स और व्यापार के आधुनिक माध्यमों पर भी सर्दियों के उत्पादों की बिक्री अच्छी बनी हुई है.

मैरिको में मुख्य परिचालन अधिकारी (भारत में कारोबार) और मुख्य कार्यपालक अधिकारी (नया कारोबार) संजय मिश्रा ने कहा कि सफोला इम्युनिवेदा श्रृंखला के उत्पादों और बॉडी लोशन जैसे के लिए सर्दियों का मौसम अहम होता है जिनके लिए विशेषकर उत्तरी क्षेत्र से मांग आती है. उन्होंने कहा, ‘‘सर्दियों शुरू होने के साथ ही इस साल भी इन उत्पादों का इस्तेमाल बढ़ गया है.’’

ये भी पढ़ें – CNG-PNG होंगी सस्‍ती! नेचुरल गैस की अधिकतम कीमत तय कर सकती है सरकार, कैसे मिलेगा फायदा?

मिश्रा ने कहा, ‘‘हमें भरोसा है कि इन सर्दियों में बॉडी लोशन की श्रेणी में मांग में वृद्धि सालाना आधार पर 50 प्रतिशत से अधिक रहेगी.’’

डाबर इंडिया लिमिटेड के मुख्य परिचालन अधिकारी आदर्श शर्मा ने कहा, ‘‘अभी तो सर्दियां शुरू ही हुई हैं, हमारे उत्पादों की शुरुआती मांग में निरंतरता बनी हुई है. यदि इस बार अच्छी ठंड पड़ेगी तो मांग में और तेजी आएगी.’’

उन्होंने कहा कि शहरी बाजारों की तुलना में ग्रामीण बाजारों में मांग अब भी कम है. हालांकि, फसल अच्छी रहने से आगामी तिमाही में ग्रामीण क्षेत्रों से आने वाली मांग में वृद्धि की उम्मीद है.

ये भी पढ़ेंTrain Cancellation : 182 ट्रेनें आज रद्द, कुछ के रूट बदले, स्‍टेशन जाने से पहले चेक करें पूरी लिस्‍ट

इमामी में अध्यक्ष (बिक्री-सीसीडी) विनोद राव ने कहा कि मुद्रास्फीति के कारण मांग संबंधी चुनौतियों के बावजूद कंपनी के सर्दियों के उत्पादों का प्रदर्शन ग्रामीण बाजारों के साथ-साथ थोक बिक्री भी में अच्छा रहने वाला है. उन्होंने कहा कि पिछले वर्ष की समान अवधि की तुलना में इस वर्ष बड़े पैकेट वाले उत्पादों की बिक्री भी बढ़ी है.

Source :
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

लोकप्रिय

To Top