All for Joomla All for Webmasters
शेयर बाजार

IPO : Abans Holdings का प्राइस बैंड फिक्स, 12 दिसम्बर से निवेशकों के लिए खुलेगा आईपीओ

IPO 1

अबांस होल्डिंग्स अबांस ग्रुप की फाइनेंशियल सर्विसेज उपलब्ध कराने वाली इकाई है. आईपीओ के तहत कंपनी के 38 लाख नए इक्विटी शेयर जारी होंगे. वहीं कंपनी के प्रमोटर और फाउंडर अभिषेक बंसल ऑफर फॉर सेल (OFS) विंडो के तहत 90 लाख इक्विटी शेयरों की बिक्री की पेशकश करेंगे.

नई दिल्ली. अबांस होल्डिंग्स (Abans Holdings) के आईपीओ का प्राइस बैंड फिक्स हो गया है. कंपनी का आईपीओ 12 से 15 दिसम्बर के बीच खुलेगा. एंकर निवेशकों के लिए यह 9 दिसंबर से खुलने वाला है. कंपनी ने निवेशकों के लिए 256-270 रुपये प्रति शेयर का प्राइस बैंड फिक्स किया है. निवेशक इस कीमत पर कंपनी के शेयरों की बुकिंग कर सकेंगे.

ये भी पढ़ेंBharat Bill Pay : आरबीआई का ऐलान- घर बैठे भरें स्‍कूल फीस, किराया और बिल, री-केवाईसी के लिए बैंक जाने की जरूरत नहीं

अबांस होल्डिंग्स अबांस ग्रुप (Abans Group) की फाइनेंशियल सर्विसेज उपलब्ध कराने वाली इकाई है. अबांस होल्डिंग्स के आईपीओ के लिए मर्चेंट बैंकर आर्यमैन फाइनेंशियल (Aryaman Financial Services) सर्विसेज है तो वहीं इसकी रजिस्ट्रार बिगशेयर सर्विसेज (Bigshare Services) है.

आईपीओ में जारी होंगे 38 लाख इक्विटी शेयर
आईपीओ के तहत कंपनी के 38 लाख नए इक्विटी शेयर जारी होंगे. वहीं कंपनी के प्रमोटर और फाउंडर अभिषेक बंसल ऑफर फॉर सेल (OFS) विंडो के तहत 90 लाख इक्विटी शेयरों की बिक्री की पेशकश करेंगे. अबांस होल्डिंग्स के चेयरमैन और मैनेजिंग डायरेक्टर भी अभिषेक बंसल ही हैं. नए शेयरों के जरिये अबांस होल्डिंग्स जो पैसे इकट्ठा करेगी उसका इस्तेमाल एनबीएफसी सब्सिडियरी अबांस फाइनेंस की पूंजीगत जरूरतें पूरी करने और इसके कैपिटल बेस को बढ़ाने में करेगी. वहीं आईपीओ से जुटाए गए पैसों का इस्तेमाल बाकी कॉरपोरेट मकसद को पूरा करने में भी किया जाएगा.

ये भी पढ़ेंLIC: शेयरों ने डुबाया निवेशकों का पैसा, पर म्यूचुअल फंड के जरिए 1 लाख रुपये को बनाया 18 लाख

क्या कारोबार करती है अबांस होल्डिंग
अबांस होल्डिंग के कारोबार की बात करें तो यह कंपनी एनबीएफसी सर्विसेज, प्राइवेट क्लाइंट स्टॉक ब्रोकिंग, डिपॉजिटरी के साथ-साथ इक्विटीज, कमोडिटीज और फॉरेन एक्सचेंज में ग्लोबल लेवल पर इंस्टीट्यूशनल ट्रेडिंग जैसी सेवाएं उपलब्ध कराती है. यह कंपनी भारत के अलावा हॉन्गकांग, यूके, यूएई, चीन और मॉरीशस में भी कारोबार करती है. यह कॉरपोरेट्स, इंस्टीट्यूशनल और हाई नेटवर्थ क्लाइंट्स को एसेट मैनेजमेंट, इंवेस्टमेंट एडवायजरी और वेल्थ मैनेजमेंट सेवाएं भी उपलब्ध कराती है.

अबांस होल्डिंग की वित्तीय स्थिति
अगर अबांस होल्डिंग कंपनी की वित्तीय सेहत को देखा जाए तो वित्त वर्ष 2021-22 में इसका मुनाफा सालाना आधार पर 35 फीसदी बढ़ा है. लेकिन इसका रेवेन्यू 52 फीसदी गिरकर 638.63 करोड़ रुपये रह गया. वहीं चालू वित्त वर्ष 2022-23 के शुरुआती पांच महीने अप्रैल-अगस्त 2022 में कंपनी को 29.7 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ और 285 करोड़ रुपये का रेवेन्यू मिला है.

Source :
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

लोकप्रिय

To Top