All for Joomla All for Webmasters
समाचार

Bullet Train News: बुलेट ट्रेन के 12 स्टेशनों में शामिल होगा अयोध्या, दिल्ली-एनसीआर को भी होगा फायदा

trainbullet

नई दिल्ली/नोएडा, जागरण डिजिटल डेस्क। सबकुछ ठीक रहा तो अगले कुछ सालों के दौरान दिल्ली-वाराणसी के बीच बुलेट ट्रेन (Delhi Varanasi High Speed Rail) के सफर का सपना साकार हो जाएगा। नेशनल हाई स्पीड रेल कॉर्पोरेशन लिमिटेड (National High Speed Rail Corporation Limited) की ओर से उम्मीद जताई जा रही है कि अगले महीने यानी सितंबर में दिल्ली-वाराणसी कॉरिडोर की फाइनल विस्तृत परियोजना रिपोर्ट (Detailed project report) तैयार हो जाएगी। डीपीआर को संस्था के समक्ष रखा जाएगा, जिसके पारित होने की पूरी उम्मीद है। बता दें कि दिल्ली-वाराणसी के बीच रफ्तार भरने वाली बुलेट ट्रेन दिल्ली के सराय काले खां से चलेगी और पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी तक जाएगी। कुल मिलकार बुलेट ट्रेन का रूट 865 किलोमीटर का होगा। इससे दिल्ली-एनसीआर के लोगों को भी फायदा होगा, क्योेंकि बुलेट ट्रेन वाराणसी के साथ राम नगरी अयोध्या भी जाएगी। 

कॉरिडोर पर बन सकते हैं कुल 12 स्टेशन

दिल्ली-वाराणसी कॉरिडोर की फाइनल विस्तृत परियोजना रिपोर्ट के अनुसार, उत्तर प्रदेश में बुलेट ट्रेन के कुल 12 स्टेशन हो सकते हैं। दिल्ली से वाराणसी तक का सफर सिर्फ 4 घंटे में पूरा होगा, जबकि यह ट्रेन अयोध्या तक जाएगी।

गौतमुबद्धनगर समेत 22 जिलों से होकर गुजरेगा कॉरिडोर

दिल्ली-बाराणसी के बीच प्रस्तावित हाई स्पीड कॉरिडोर गौतमबुद्धनगर समेत उत्तर प्रदेश के 22 जिलों से होकर गुजरेगा। नोएडा, ग्रेटर नोएडा और यमुना के साथ मथुरा, आगरा, अयोध्या, लखनऊ, प्रयागराज और वाराणसी जैसे महत्वपूर्ण शहरों को दिल्ली से जोड़ेगी।

  1. नोएडा सेक्टर-148
  2. नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट
  3. मथुरा
  4. आगरा
  5. कन्नौज
  6. इटावा
  7. लखनऊ
  8. रायबरेली
  9. प्रयागराज
  10. भदोही
  11. वाराणसी
  12. अयोध्या

गौरतलब है कि बुलेट ट्रेन के तहत दिल्ली में सराय काले खां से बुलेट ट्रेन चलने के बाद नोएडा में सेक्टर-148 पहला पड़ाव होगा। इसके बाद नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट में बुलेट ट्रेन का ठहराव होगा। दिल्ली-वाराणसी बुलेट ट्रेन कॉरिडोर पर गौतमबुद्ध नगर ऐसा अकेला जिला होगा, जिसमें दो स्टेशन बनाए जाएंगे।

गौतमबुद्धनगर में बनेंगे 2 स्टेशन

जो जानकारी सामने आ रही है कि उसके बुलेट ट्रेन के 865 किलोमीटर लंबे दिल्ली-वाराणसी कॉरिडोर पर कुल 12 स्टेशन हो सकते हैं। अगस्त में आने वाली फाइनल डीपीआर में यमुना एक्सप्रेसवे पर बनने वाले जेवर एयरपोर्ट को देखते हुए बुलेट ट्रेन को एयरपोर्ट से लिंक करने की भी योजना है। इसकी पूरी तैयारी है। दिल्ली-वाराणसी कॉरिडोर की शुरुआत दिल्ली के सराय काले खां से होगी। इसके तहत नोएडा के सेक्टर-148 में उत्तर प्रदेश का पहला स्टेशन बनाने का प्रस्ताव है, जबकि दूसरे दूसरा स्टेशन जेवर में बनने वाले नोएडा इंटरनेशनल एयपोर्ट के करीब होगा।

अयोध्या भी जाएगी बुलेट ट्रेन

बुलेट ट्रेन दिल्ली से शुरू चलकर पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी तक जाएगी। खास बात यह है कि यह ट्रेन अयोध्या से भी होकर गुजरेगी, जहां पर मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम चंद्र का भव्य मंदिर निर्माणाधीन है। अयोध्या तक बुलेट ट्रेन की योजना धरातल पर आने के बाद दिल्ली से अयोध्या और वाराणसी तक चलने से पर्यटन में भी इजाफा होगा। 

दिल्ली से नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट सिर्फ 21 मिनट में

बुलेट ट्रेन के चलने से दिल्ली के निजामुद्दीन से एयरपोर्ट तक तकरीबन 62.5 किलोमीटर की दूरी सिर्फ 21 मिनट में तय होगी। वहीं, नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट से आगरा पहुंचने में सिर्फ 33 मिनट का समय लगेगा।  

Source :
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

लोकप्रिय

To Top