All for Joomla All for Webmasters
वित्त

क्‍या भारत में Cryptocurrency पर लगेगी पाबंदी? जानें FM निर्मला सीतारमण ने क्रिप्‍टोकरेंसी बिल पर क्‍या दिया जवाब

Cryptocurrency

वित्‍त मंत्री निर्मल सीतारमण (FM Nirmala Sitharaman) ने चालू वित्त वर्ष के दौरान महंगाई की दर (Inflation Rate) 2 से 6 फीसदी के दायरे में ही बने रहने की उम्मीद जताई है. साथ ही आने वाले महीनों में राजस्व में बढ़ोतरी की भी उम्‍मीद जताई है.

नई दिल्‍ली. भारत में इस समय बड़ी संख्‍या में निवेशक क्रिप्‍टोकरेंसी (Cryptocurrency) में पैसा लगा रहे हैं. ऐसे में क्रिप्‍टोकरेंसी पर केंद्र सरकार के कदम पर सभी की नजर है. इस बीच वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (FM Nirmala Sitharaman) ने सोमवार को कहा कि वह क्रिप्‍टोकरेंसी से जुड़े विधेयक को लेकर मंत्रिमंडल की मंजूरी (Cabinet Approval) का इंतजार कर रही हैं. उन्‍होंने बताया कि प्रस्तावित विधेयक मंत्रिमंडल के सामने रख दिया गया है. डिजिटल करेंसी से जुड़े मुद्दों का अध्ययन करने और विशिष्ट कार्यों का प्रस्ताव पेश करने के लिए आर्थिक मामलों के सचिव की अध्यक्षता में गठित क्रिप्‍टोकरेंसी पर अंतर-मंत्रालयी समिति ने अपनी रिपोर्ट सौंप दी है.

समिति ने अपनी रिपोर्ट में क्‍या की है सिफारिश
समिति ने रिपोर्ट में सिफारिश की है कि भारत में केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार (Modi Government) की ओर से जारी किसी भी डिजिटल करेंसी को छोड़कर सभी प्राइवेट क्रिप्‍टोकरेंसीस पर पाबंदी (Cryptocurrency Ban) लगा दी जाए. वित्त मंत्री सीतारमण ने कहा कि क्रिप्‍टोकरेंसी से जुड़े विधेयक पर मंत्रिमंडल का नोट तैयार है. मैं मंत्रिमंडल की ओर से इसे मंजूरी मिलने का इंतजार कर रही हूं. रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) ने केंद्र सरकार को बाजार में प्रचलित क्रिप्‍टोकरेंसी से जुड़ी अपनी चिंताओं के बारे में जानकारी दे दी है.

महंगाई, राजस्‍व औरक्रेडिट ग्रोथ पर जताई उम्‍मीद
वित्‍त मंत्री सीतारमण ने चालू वित्त वर्ष के दौरान महंगाई की दर (Inflation Rate) 2 से 6 फीसदी के दायरे में ही बने रहने की उम्मीद जताई है. आरबीआई को खुदरा महंगाई (Retail Inflation) 4 फीसदी बनाए रखने को कहा गया है. ये 2 फीसदी ऊपर या नीचे रह सकती है. सीतारमण ने आने वाले महीनों के दौरान राजस्व में बढ़ोतरी की भी उम्‍मीद जताई है. उन्होंने कहा कि पिछले कुछ महीनों में वस्तु व सेवाकर (GST) और प्रत्यक्ष कर (Direct Taxe) में सुधार दर्ज किया गया है. भारतीय अर्थव्यवस्था (Indian Economy) में मांग बढ़ने पर कहा कि बाजार में तरलता अच्छी बनी हुई है. साथ ही त्योहारी मौसम में क्रेडिट ग्रोथ (Credit Growth) में बढ़ोतरी रहेगी.

Source :
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

लोकप्रिय

To Top