All for Joomla All for Webmasters
आंध्र प्रदेश

आंध्र प्रदेश में स्‍कूल जा रहे कोरोना लक्षण वाले सभी स्‍टूडेंट्स का होगा कोविड टेस्‍ट

अमरावती. आंध्र प्रदेश (Andhra Pradesh) के मुख्‍यमंत्री जगन मोहन रेड्डी (Jagan Mohan Reddy) ने अफसरों को उन सभी स्‍कूल (Schools) स्‍टूडेंट्स का कोरोना टेस्‍ट (Corona Test) करने के इंतजाम करने का आदेश दिया है, जिनमें कोविड 19 (Covid 19) के लक्षण हैं. अमरावती में मंगलवार को समीक्षा बैठक के दौरान मुख्‍यमंत्री ने अफसरों को निर्देश दिए कि स्‍कूलों में स्‍वास्‍थ्‍य विभाग की सभी गाइडलाइंस का सख्‍ती से पालन किया जाए. इनमें सोशल डिस्‍टेंसिंग और मास्‍क पहनना भी शामिल है.

कोरोना की संभावित तीसरी लहर को लेकर भी आंध्र प्रदेश सरकार सतर्क है. इसके तहत मुख्‍यमंत्री ने कहा कि गांवों और सचिवालयों को टीकाकरण केंद्र के रूप में प्राथमिकता पर रखा जाए. उन्‍होंने यह भी कहा कि आंध्र प्रदेश में पहले की तरह ही रात 10 बजे से सुबह 6 बजे तक कोविड कर्फ्यू लागू रहेगा. इस दौरान शादी समारोह के लिए पहले से अनुमति लेनी होगी. शादी समारोह में सिर्फ 150 लोगों को ही शामिल होने की इजाजत है.

बैठक के दौरान अफसरों ने मुख्‍यमंत्री जगन मोहन रेड्डी को सूचित किया कि राज्‍य में मौजूदा समय कोरोना वायरस संक्रमण के 17,218 सक्रिय केस हैं. राज्‍य की रिकवरी रेट 98.45 फीसदी है. आंध्र में पॉजिटिविटी रेट 1.94 फीसदी है. अफसरों ने यह भी बताया कि राज्‍य के 10 जिलों में पॉजिटिविटी रेट 3 फीसदी से भी कम है.

अफसरों ने सीएम को यह भी जानकारी दी है कि राज्‍य में 20,464 ऑक्‍सीजन कंसंट्रेटर और 27,311 डी टाइप ऑ‍क्‍सीजन सिलेंडर उपलब्‍ध हैं. साथ ही 104 जगहों पर अगस्‍त के अंत तक ऑक्‍सीजन प्‍लांट भी पूरी तरह तैयार हो जाएंगे. वहीं 36 अन्‍य जगहों पर सितंबर के दूसरे हफ्ते तक ऑक्‍सीजन प्‍लांट तैयार हो जाएंगे.

अफसरों ने मुख्‍यमंत्री को यह भी बताया कि बच्‍चों को अब न्‍यूमोनोकोकल कॉन्‍जुकेट वैक्‍सीन (PCV) भी लगाई जाएगी ताकि उन्‍हें न्‍यूमोनिया से बचाया जा सके. अब तक बच्‍चों को 9 वैक्‍सीन दी जा रही हैं. उस सूची में अब इस वैक्‍सीन को भी शामिल कर लिया जाएगा. बता दें कि राज्‍य में 16 अगस्‍त से सभी स्‍कूल खोल दिए गए हैं.

Source :
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

लोकप्रिय

To Top