All for Joomla All for Webmasters
खेल

तीसरे टेस्ट मैच में भारत के खिलाफ क्या था इंग्लैंड का ‘गेम प्लान’, कोच ने किया खुलासा

sport

नई दिल्ली, आनलाइन डेस्क। इंग्लैंड के मुख्य कोच क्रिस सिल्वरवुड ने कहा कि ‘नियंत्रित आक्रामकता’ ने लार्ड्स में अपमानजनक हार के बाद मेजबान टीम को भारत के खिलाफ लीड्स टेस्ट में वापसी करने में मदद की। पांच मैचों की सीरीज में 0-1 से पिछड़ने के बाद इंग्लैंड की टीम ने हेडिंग्ले में भारत को एक पारी और 76 रन से हरातर श्रृंखला में बराबरी हासिल की। सीरीज के पहले और दूसरे मैच में जुबानी जंग देखने को मिली थी, लेकिन तीसरे मैच में ऐसा कुछ नहीं हुआ।

लार्ड्स टेस्ट इंग्लैंड के लिए एक शर्मनाक मैच रहा था, क्योंकि टीम पांचवें दिन के आखिरी दो सत्रों में ढेर हो गई थी। हालांकि, लीड्स में इंग्लैंड ने भारत को पहली पारी में 78 रनों पर आउट करने के बाद केवल तीन दिनों में मैच अपने नाम कर लिया। सिल्वरवुड ने कहा कि तीसरे टेस्ट में इंग्लिश गेंदबाजों ने सही जगह प्रहार किया, जिससे भारतीय टेल-एंड बल्लेबाजों पर दबाव बढ़ गया। कप्तान जो रूट और उनकी टीम की मेहनत रंग लाई।

लार्ड्स टेस्ट इंग्लैंड के लिए एक शर्मनाक मैच रहा था, क्योंकि टीम पांचवें दिन के आखिरी दो सत्रों में ढेर हो गई थी। हालांकि, लीड्स में इंग्लैंड ने भारत को पहली पारी में 78 रनों पर आउट करने के बाद केवल तीन दिनों में मैच अपने नाम कर लिया। सिल्वरवुड ने कहा कि तीसरे टेस्ट में इंग्लिश गेंदबाजों ने सही जगह प्रहार किया, जिससे भारतीय टेल-एंड बल्लेबाजों पर दबाव बढ़ गया। कप्तान जो रूट और उनकी टीम की मेहनत रंग लाई।

सिल्वरवुड ने ये भी माना कि भारत विश्व क्रिकेट की शीर्ष टीमों में शामिल है। ऐसे में हम उन्हें कमजोर नहीं समझ सकते। उन्होंने कहा, “उनके शीर्ष पर पहुंचने की कुंजी है, क्योंकि हम जानते हैं कि वे बहुत अच्छी टीम हैं। एक बार जब वे शीर्ष पर पहुंच जाते हैं तो उन्हें रोकना मुश्किल होता है। हमने उन्हें बैकफुट पर रखा और हमने दबाव बनाए रखा, इसलिए आप जानते हैं, यह दिखाता है कि हम क्या कर सकते हैं। लोगों ने गेम प्लान को बखूबी अंजाम दिया। यह दिखाता है कि एक बार जब आप लोगों को बैकफुट पर ला देते हैं, तो दबाव बढ़ जाता है।”

Source :
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

लोकप्रिय

To Top