All for Joomla All for Webmasters
जरूरी खबर

पीएम मोदी ने ‘जीरो डिफेक्ट, जीरो इफेक्ट ऑन एनवायरनमेंट’ मैन्युफैक्चरिंग का किया आह्वान

जीरो इफ़ेक्ट पर्यावरण पर जीरो इफ़ेक्ट मोदी ने गुरुवार को विनिर्माण पर जोर देते इसका जिक्र किया। मोदी ने का कि दुनिया आज भारत को मैन्युफैक्चरिंग पावरहाउस के तौर पर देख रही है। दुनिया पर्यावरण के प्रति जागरूक

नई दिल्ली, पीटीआइ। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ‘जीरो इफ़ेक्ट, पर्यावरण पर जीरो इफ़ेक्ट’ विनिर्माण पर जोर देते हुए गुरुवार को कहा कि बदलती महामारी वैश्विक आपूर्ति श्रृंखला में निर्माताओं को अनंत अवसरों का इंतजार है। प्रधानमंत्री ने कहा कि दुनिया आज भारत को मैन्युफैक्चरिंग पावरहाउस के तौर पर देख रही है। उन्होंने कहा, आज, दुनिया भारत को एक विनिर्माण शक्ति के रूप में देख रही है। हमारा विनिर्माण क्षेत्र हमारे सकल घरेलू उत्पाद का लगभग 15 प्रतिशत है, लेकिन ‘मेक इन इंडिया’ के साथ अनंत संभावनाएं हैं। हमें देश में एक मजबूत विनिर्माण आधार बनाने के लिए काम करना चाहिए। मोदी एक वेबिनार को संबोधित कर रहे थे। इसमें केंद्रीय वाणिज्य और उद्योग मंत्री पीयूष गोयल भी शामिल हुए।

ये भी पढ़ें : Credit Card से कैश विड्राल चाहते हैं तो जानिए कितना भरना पड़ेगा ब्‍याज

प्रधानमंत्री ने यह भी कहा कि COVID-19 महामारी के दौरान, दुनिया भर में आपूर्ति श्रृंखला नष्ट हो गई, इसने वैश्विक अर्थव्यवस्था को हिलाकर रख दिया। उन्होंने कहा, ‘यह ‘मेक इन इंडिया’ को कहीं अधिक प्रासंगिक और महत्वपूर्ण बनाता है।’ लोगों से सरकार की पहल पर ध्यान केंद्रित करने का आग्रह करते हुए, प्रधानमंत्री ने कहा कि ‘मेक इन इंडिया’ ‘अनंत अवसर’ लाता है।

ये भी पढ़ें : Patanjali ने अब लॉन्‍च किया Rupay Credit Card, जानिए किस सरकारी बैंक का मिला साथ

उन्होंने कहा, ‘हमारे देश को जनशक्ति और संसाधनों से नवाजा गया है जो हमारे लक्ष्यों को प्राप्त करने में महत्वपूर्ण मदद करेगा। पीएम मोदी ने पर्यावरण के अनुकूल उत्पाद बनाने पर जोर देते हुए निर्माताओं से ‘जीरो इफ़ेक्ट, पर्यावरण पर जीरो इफ़ेक्ट’ पर ध्यान केंद्रित करने का भी आग्रह किया।

उन्होंने कहा, ‘जीरो इफ़ेक्ट, पर्यावरण पर जीरो इफ़ेक्ट’ पर ध्यान देना चाहिए, क्योंकि प्रतिस्पर्धी दुनिया में न केवल गुणवत्ता मायने रखती है बल्कि पर्यावरण के अनुकूल उत्पाद भी मायने रखते हैं। हम निर्यात और भारत की जरूरतों दोनों को ध्यान में रखते हुए काम कर सकते हैं। हमारे उत्पादों में जीरो इफ़ेक्ट होना चाहिए जैसे कि एक प्रतिस्पर्धी दुनिया, गुणवत्ता मायने रखती है। दुनिया पर्यावरण के प्रति जागरूक है, और इस प्रकार हमारे उत्पादों का पर्यावरण पर शून्य प्रभाव होना चाहिए।

Source :
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

लोकप्रिय

To Top